22 Oct 2019, 19:56:54 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

अशोक तंवर को मिला राजनीतिक शुद्धिकरण काम

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 10 2019 5:25PM | Updated Date: Oct 10 2019 5:25PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

चंडीगढ़। पूर्व कांग्रेस नेता अशोक तंवर ने कहा है कि कांग्रेस इस समय सबसे बुरे दौर से गुजर रही है और हरियाणा में जिस तरह से विधानसभा चुनावों के लिये पार्टी टिकटों का वितरण हुआ है उससे लगता है कि भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) को 75 पार का नारा कांग्रेस के भीतर बैठे ही लोगों ने दिया है और वे जल्द बेनकाब होंगे। डॉ. तंवर ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि टिकट वितरण में ऐसे लोगों की उपेक्षा हुई जिन्होंने अपने जीवन का बड़ा हिस्सा पार्टी के लिये सतही स्तर पर काम करने में लगा दिया। उन्होंने कहा कि 90 सीटों में से कम से 30-40 सीटों को ऐसे लोगों टिकट दिये गये जिनका कांग्रेस से कोई सरोकार नहीं रहा है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ने अनेक मंत्रियों और विधायकों का टिकट काट दिया उसी तरह कांग्रेस को भी साहस दिखाते हुये टिकट वितरण में संतुलन बनाना और सही कर्मठ कार्यकर्ताओं को चुनाव में उतारना चाहिये था। उन्होंने कांग्रेस को ‘‘बच्चाखाणी‘‘ पार्टी की संज्ञा देते हुये कहा कि वह बचपन से कांग्रेस के लिये यह शब्द प्रयुक्त होते सुनते आये हैं और आज यह साबित भी हो गया है। उन्होंने इस पर विस्तार से कहा कि कांग्रेस में ‘मगरमच्छ‘ के रूप में कुछ ऐसे नेता हैं जो छोटे और कर्मठ कार्यकर्ताओं को खा जाते हैं।
 
पार्टी में राहुल गांधी के रूप में भावी युवा नेतृत्व तैयार हो रहा था लेकिन इन तथाकथित नेताओं ने उन्हें भी नहीं चलने दिया। उन्होंने कहा कि आज वह स्वयं भी इनका शिकार बन गये लेकिन वह अब राजनीतिक शुद्धिकरण के लिये काम करेंगे। वह विधानसभा चुनावों में अच्छे उम्मीदवारों के लिये प्रचार करेंगे तथा गंदे लोगों को राजनीति से बाहर करने का काम करेंगे। भले ही ये कांग्रेस या किसी अन्य राजनीतिक दल में क्यों न हों। एक सवाल पर पूर्व कांग्रेस नेता ने कहा कि 24 तारीख को राज्य में विधानसभा चुनावों का परिणाम आने के बाद वह अपने समर्थकों के साथ मिल बैठ कर सक्रिय राजनीति में रहने को लेकर आगे की रणनीति तय करेंगे। उन्होंने कहा कि उन्हें कांग्रेस की ओर से संगठन में लिये जाने की पेशकश हुआ। भाजपा, जननायक जनता पार्टी(जजपा), इंडियन नेशनल लोकदल(इनेलो), बहुजन समाज पार्टी(बसपा), लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी समेत अनेक राजनीतिक दलों की ओर से शामिल होने की पेशकश की गईं लेकिन वह अगला कोई भी कदम 24 अक्तूबर के बाद ही उठाएंगे। डॉ. तंवर ने कहा कि कांग्रेस इस समय बेहद बुरे दौर से गुजर रही है। अनेक नेता इसे अलविदा कह चुके हैं और आने वाले समय में यह आंकड़ा बढ़ने वाला है। प्रदेश में 85 पार का नारा देने वाले कांग्रेस नेता ही इस पार्टी को हरियाणा मुक्त बनाने का षडयंत्र रचने का काम किया है।  
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »