23 Apr 2017, 17:25:14 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

अक्षय फल देने वाली 'अक्षय तृतीया'

अक्षय फल देने वाली 'अक्षय तृतीया'

अक्षय तृतीया या आखा तीज वैशाख मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को कहते हैं। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार इस दिन जो भी शुभ कार्य किए जाते हैं, उनका अक्षय फल मिलता है।

इस व्रत से मिलता है अन्‍न दान और कन्‍या दान के बराबर पुण्‍य

इस व्रत से मिलता है अन्‍न दान और कन्‍या दान के बराबर पुण्‍य

धार्मिक ग्रंथों में कहा गया है कि अन्न दान और कन्या दान का महत्त्व हर दान से ज़्यादा है और वरूथिनी एकादशी का व्रत रखने वाले को इन दोनों के योग के बराबर फल प्राप्त होता है।

जो काम हीरा नहीं कर सकता वो चांदी कर सकती है, ये मिलेंगे लाभ

जो काम हीरा नहीं कर सकता वो चांदी कर सकती है, ये मिलेंगे लाभ

हीरा एक ऐसी धातु है, जिसे अपने पास रखने की चाह लगभग हर कोई रखता है। ये एक मंहगी वस्तु है, जो साधारण व्यक्ति की पंहुच से परे है। जिस किसी ने हीरे से निर्मित वस्तु पहनी हो उसे समाज में बहुत धनवान माना जाता है।