17 Oct 2019, 03:52:10 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

वाराणसी के ‘जिदा-मुर्दा चाय वाले’ को 16 साल बाद मिला न्याय

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 20 2019 12:57AM | Updated Date: Jun 20 2019 12:57AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में एक शख्स को 16 साल की लंबी लड़ाई के बाद बुधवार को जिला प्रशासन ने उसकी जमीन दिलाकर उसे जिदा होने का सम्मान दिलाया। अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि जिलाधिकारी सुरेंद्र सिह ने जनसुनवायी के बाद मौके पर पहुंचकर राम मूरत सिह उर्फ मैं जिदा हूं को उसके हिस्से की जमीन दिलायी। आरोप है कि भू-माफियाओं ने साजिश के तहत सरकारी दस्तावेजों में चौबेपुर निवासी राम मूरत को 2003 में मृत साबित कर उसकी जमीन पर कब्जा कर लिया था और तभी से वह खुद को जिदा होने की लड़ाई रहा था।  राम मूरत अपने गले में बैनर लटकाकर वाराणसी, लखनऊ से लेकर दिल्ली तक पिछले 16 वर्षों से लोगों को बताता रहा कि वह जिदा हैं, लेकिन तकनीकी तौर पर प्रशासन मानने को तैयार नहीं था।

‘तेरहवी हो गई, मगर मैं जिदा हूं’ एवं ‘जिदा मुर्दा चाय वाले’ लिखे बैनर गले में लटकाये उसके दिल्ली के जंतर मंतर पर विरोध का तरीका एक समय चर्चा का विषय बना लेकिन उसे न्याय नहीं मिला। जिलाधिकारी की दिलचस्पी के बाद उसे न्याय मिला और अब वह बेहद खुश है। अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सिह जिला मुख्यालय स्थित राइफल क्लब में जनसुनवाई के दौरान थाना चौबेपुर के ग्राम छितौनी निवासी राम मूरत सिह द्वारा उनके जमीन पर स्थानीय नारायण सिह, विनोद सिह, सर्वजीत यादव एवं अरंविद द्वारा साजिशन अवैध कब्जा कर लिए जाने की किये गए शिकायत को गम्भीरता से लिया। उन्होंने नगर मजिस्ट्रेट, उपजिलाधिकारी सदर, कानूनगो, थाना प्रभारी चौबेपुर एवं क्षेत्रीय लेखपाल को लेकर मौके पर पहुंचे राम मूरत सिह की जमीन की नाप अपनी मौजूदगी में कराई। जिलाधिकारी ने राम मूरत द्वारा लगाए गए आरोपों के मद्देनजर गांव में मौजूद ग्रामीणों से जमीन से संबंधित जानकारी भी ली।

इसके बाद वहां मौजूद राजस्व लेखपाल, कानूनगो एवं उपजिलाधिकारी को निर्देशित किया कि खतौनी के आधार पर राम मूरत सिह का जितना हिस्सा बनता है उतना नापी करते हुए निशान लगा दिया जाए और भविष्य में यदि जमीन पर अवैध तरीके से पुन: कब्जा किये जाने की सूचना मिलती है, तो संबंधित व्यक्ति के ऊपर भू-माफिया कानून के तहत कार्रवाई की जाये। सिह ने थानाध्यक्ष चौबेपुर को निर्देशित किया कि भूमाफियाओं पर जमीन प्राथमिकी दर्ज करें तथा भविष्य में इस तरह की समस्याओं में कड़ी कार्रवाई करें ताकि कोई भी गलत कार्य न करें। सिह ने जनसुनवायी के दौरान शौचालयों के निर्माण कार्य अवरुद्ध होने की जानकारी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए चौबेपुर थाना प्रभारी को विवाद करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का निर्देश दिया। मौके पर मौजूद किसानों से जिलाधिकारी ने वृक्षारोपण किए जाने की अपील करते हुए कहा कि किसान गड्ढा खोदे और प्रशासन के सहयोग से वृक्षारोपण करें।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »