21 Sep 2019, 08:25:44 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

कहा जाता है की राम जी ने लक्ष्मण से कहा था की रावण जैसा महान पंडित कोई नहीं है और जब रावण युद्ध हारकर अपने जीवन के अंतिम पलों में थे तो उस दौरान राम जी के कहने पर लक्ष्मण जी उनके पास गए और लक्ष्मण जी ने उनसे जीवन में सफल होने का ज्ञान मांगा इसके बाद रावण ने उन्हें जीवन में सफल होने की बाते बताई। 
 
रावण के पहले मंत्र के मुताबिक कभी भी अपने शत्रु को कभी छोटा ना समझे रावण ने कहा की मैने इस बात की भूल की और मुझे इसका परिणाम भुगतना पड़ रहा है। शुभ कार्य को करने में कभी भी देर न करे जितना जल्दी हो सके उतनी जल्दी शुभ काम कर ले और अशुभ काम को हमेशा टालने की कोशिश करे। रावण के तीसरे मंत्र के अनुसार अपनी जिंदगी के राज कभी भी किसी को नहीं बताना चाहिए रावण के मुताबिक उन्होंने अपनी मृत्यु का राज अपने भाई को बताया और इसका परिणाम आज तुम देख ही रहे हो।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »