11 Dec 2019, 22:54:59 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

ऐतिहासिक दिल्ली गोल्फ कोर्स को मिली नयी साज-सज्जा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 12 2019 1:01AM | Updated Date: Nov 12 2019 1:01AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। दिल्ली के ऐतिहासिक गोल्फ कोर्स को विश्व स्तरीय नयी साज-सज्जा मिल गयी है और नौ महीने के लम्बे अंतराल के बाद इस विश्व स्तरीय चैंपियनशिप गोल्फ कोर्स को इसके सदस्यों के टूर्नामेंट के साथ 15 नवम्बर को खोल दिया जाएगा। भारत के प्रमुख गोल्फ कोर्सों में से एक दिल्ली गोल्फ कोर्स को विश्व प्रसिद्ध गैरी प्लेयर ने नए सिरे से डिज़ाइन किया है और इसे नया रूप देने के लिए कुछ परिवर्तन किये गए हैं। गैरी प्लेयर ने दुनिया भर में 300 से ज्यादा गोल्फ कोर्स को डिज़ाइन किया है। 1930 के दशक में यह म्युनिसिपल गोल्फ कोर्स था जो अब भारत के शीर्ष गोल्फरों के लिए प्रमुख स्थान बन चुका है। 

दिल्ली गोल्फ क्लब के अध्यक्ष मेजर आरएस बेदी और दिल्ली गोल्फ क्लब के कैप्टन रोहित सभरवाल ने सोमवार को दिल्ली गोल्फ क्लब में मीडिया को नए परिवर्तनों की जानकारी देते हुए बताया कि नए कोर्स को सदस्यों के टूर्नामेंट द इनॉगरल के साथ खोला जाएगा जिसका आयोजन 15 से 17 नवम्बर तक होगा और इसमें 550 गोल्फर हिस्सा लेंगे। देश को मेजर पीजी सेठी, अशोक मलिक, विक्रमजीत सिंह, अली शेर, रोहतास सिंह, गौरव घई, नोनिता लाल कुरैशी, अशोक कुमार, शिव कपूर और शुभम जगलान जैसे चैंपियन गोल्फर देने वाले दिल्ली गोल्फ कोर्स को नया रूप देने के लिए इसे नौ महीने तक बंद रखा गया था और इस दौरान इसका कायाकल्प किया गया। 

पिछले साल पैनासोनिक ओपन के दौरान इस कोर्स को लेकर कई शिकायतें आयी और इस साल पैनासोनिक ओपन को दिल्ली से हटाकर गुरुग्राम में कराया जा रहा है। इन शिकायतों के बाद ही दिल्ली गोल्फ कोर्स में सुधार लाने का फैसला किया गया। मेजर आरएस बेदी ने कहा, ‘‘हम चाहते हैं कि दिल्ली गोल्फ क्लब भारत में ही नहीं बल्कि एशिया में शीर्ष प्रतियोगिताओं के कोर्स के रूप में अपना स्थान बरकरार रखे।कोर्स पर ज्यादा व्यस्ततता और विश्व गोल्फ के बदलते रूप के चलते हमें इस परिवर्तन की जरूरत महसूस हुई और हमने इसके लिए दुनिया के सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति गैरी प्लेयर की सेवाएं लीं। इसका परिणाम शानदार है और नए रूप के साथ यह कोर्स भारतीय गोल्फरों को ओलम्पिक की तैयारियों में मदद करेगा।’’            

रोहित सभरवाल ने कहा, ‘‘दिल्ली गोल्फ कोर्स देश के व्यस्त गोल्फ कोर्सों में से एक है और साथ ही यह ऐतिहासिक भी है। इसका स्वरुप बदलने के लिए इसे हमें कुछ समय के लिए बंद करने का फैसला लेना पड़ा। नौ महीने में यह काम पूरा कर लिया गया। खर्चा ज्यादा था लेकिन हमें खुशी है कि अपने प्रायोजकों के सहयोग और टीम वर्क से हम यह काम करने में सफल रहे।’’ दिल्ली गोल्फ कोर्स में लाये गए नए परिवर्तनों में ड्रेनेज सहित जल प्रबंधन को बेहतर बनाया गया है, कोर्स के रखरखाव के लिए पेस्टीसाइड और कीटनाशक का इस्तेमाल बिलकुल कम दिया गया है और ग्रीन्स के लिए नयी घास का इस्तेमाल किया जा रहा है। कोर्स को चुनौतीपूर्ण बनाया गया है लेकिन यह गोल्फरों के लिए दिलचस्प भी रहेगा।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »