16 Nov 2018, 04:35:45 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

नई दिल्ली। बैंकों का लोन जान-बूझकर नहीं चुकानेवाले कंपनियों के प्रमोटरों ने अपनी-अपनी कंपनी खोने के डर से 83,000 करोड़ रुपए का बकाया चुका दिया, इससे पहले कि संशोधित दिवालिया कानून इन्सॉल्वंसी ऐंड बैंकरप्ट्सी कोड (आईबीसी) के तहत कार्रवाई शुरू हो जाए।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »