06 Dec 2019, 03:20:27 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

मनरेगा स्कीम में ढ़ाई करोड़ से अधिक रूपये का घोटाला करने वाले 5 कर्मचारी बर्खास्त

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 13 2019 4:47PM | Updated Date: Nov 13 2019 4:47PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

चंडीगढ़। पंजाब के ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा ने महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) को लागू करने में दो करोड़ 59 लाख रुपए का घोटाला करने वाले पांच कर्मचारियों को बर्खास्त करने और एक कर्मचारी के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिये हैं। विभाग के प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि ये कर्मचारी फरीदकोट,मुक्तसर साहिब और फिरोजपुर जिले के हैं।
 
मनरेगा स्कीम को लागू करने के मामले में की गई जांच में ब्लॉक फरीदकोट के सहायक प्रोजैक्ट अधिकारी यादविन्दर सिंह, ब्लॉक गिद्दड़बाहा के सहायक प्रोजैक्ट अधिकारी हरप्रीत सिंह, ब्लॉक गुरूहरसहाए के सहायक प्रोजैक्ट अधिकारी दलीप कुमार, ब्लॉक फिरोजपुर के सहायक प्रोजैक्ट अधिकारी रजनी शर्मा और मीना शर्मा और ब्लॉक घल्ल खुर्द के सहायक प्रोजैक्ट अधिकारी चरनजीत सिंह पर आरोप है कि इन्होंने इस स्कीम के तहत इस्तेमाल की गई सामग्री के लिए दो करोड़ 59 लाख रुपए की फर्जी अदायगी की।
 
इनमें से पहले ही इस्तीफा दे गए ब्लॉक फरीदकोट के सहायक प्रोजैक्ट अधिकारी यादविन्दर सिंह के विरुद्ध पुलिस केस दर्ज कराने और शेष को बर्खास्त करने के आदेश किये गए हैं। बाजवा ने विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को आदेश दिया है कि मनरेगा समेत विभाग द्वारा लागू की जा रही किसी भी स्कीम में भ्रष्टाचार और रिश्वतख़ोरी कतई बर्दाश्त नहीं की जायेगी। राज्य के हर ब्लॉक में इस स्कीम को लागू किये जाने की तुरंत पड़ताल करवाई जाये। उन्होंने हिदायत की कि इस स्कीम के अंतर्गत जारी किये गए एक-एक पैसे को सही जगह पर ख़र्च करने को यकीनी बनाया जाये।
 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »