15 Nov 2019, 16:18:47 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

पीवीआर ने ग्लोबल विस्तार योजना के तहत श्रीलंका में प्रवेश किया

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 8 2019 5:17PM | Updated Date: Nov 8 2019 5:18PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। देश की अग्रणी और सर्वाधिक प्रीमियम फिल्म एक्जिबिशन कंपनी पीवीआर सिनेमा ने अंतराष्ट्रीय स्तर पर अपना कारोबार बढ़ाते हुए शुक्रवार को श्रीलंका के बाजार में प्रवेश करने का एलान किया। कंपनी ने आज बताया कि श्रीलंका की राजधानी कोलंबो के वन गैले फेस माल में पीवीआर लंका खोला है। पीवीआर ने फिल्म देखने के अनुभव को बेहतर बनाते हुए पीवीआर लंका में प्रीमियम फार्मेट्स जैसे लक्जरी सिनेमा, पीवीआर लक्ज और युवाओं तथा उनके परिवारों के लिए विशेष आडिटोरिम पीवीआर प्लेहाउस शुरू किया है।
 
श्रीलंका के बाजार में प्रवेश करने पर खुशी जताते हुए पीवीआर लिमिटेड के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक अजय बिजली ने कहा,‘‘ श्रीलंका में प्रवेश चालू वित्त वर्ष की हमारी कार्ययोजना का हिस्सा था और हमें प्रसन्नता है कि हमने यह सफलता हासिल की। दोनों देशों के बीच सामाजिक-सांस्कृतिक क्षेत्र में इससे नये रास्ते खुलेंगे। हमारा ध्येय नयी अवधारणा पर क्षेत्रीय कंटेट को श्रीलंका के दर्शकों के लिए सुलभ बनाना है। भारतीय फिल्म उद्योग पिछले कुछ सालों में बहुत तेजी से बढ़ा है और विश्वभर में इसके प्रशंसकों बने है।
 
पीवीआर इन प्रशंसकों तक नवाचार और विस्तार से अपनी पहुंच बनाना चाहता है। बिजली ने बताया कि श्रीलंका में पीवीआर सिनेमा 38454 वर्गफीट में है और इसमें 1176 दर्शकों के बैठने की क्षमता के साथ दो मंजिल में स्थित है। कंपनी के संयुक्त प्रबंध निदेशक संजीव कुमार बिजली ने कहा,‘‘ श्रीलंका में पीवीआर के पहुंचने पर खुशी जताते हुए कहा कि यहां की बाजार स्थिति भी भारतीय बाजार की तरह ही है जिससे उत्पाद बहुत आसानी से डिजाइन करने में मदद मिली।
 
श्रीलंका में भारतीय कटेंट बहुत पसंद किया जाता है और हम यहां के सिनेमाप्रेमियों को संपन्न और विस्तृत अनुभव प्रदान कराना चाहते हैं ।’’ पीवीआर ने भारत में 1997 में अपने कारोबार की शुरुआत की और पीछे मुड़कर नहीं देखा। पीवीआर ने शुरुआत से मनोरंजन हासिल करने का तरीका बदल दिया। कंपनी की 70 शहरों में 171 संपत्तियां हैं और सालाना 10 करोड़ दर्शक लुत्फ उठाते हैं।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »