20 Feb 2020, 16:46:20 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

देश में नहीं रुक रहा भ्रष्टाचार, भ्रष्ट देशों की सूची में भारत दो पायदान फिसला

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jan 24 2020 12:24PM | Updated Date: Jan 24 2020 12:24PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। दुनियाभर में भ्रष्टाचार एक बड़ी मुसीबत बना हुआ है। इसपर रोकथाम के लिए भारत में भी कई उपाय किए गए लेकिन फिर भी हमारा देश इस मामले में दो पायदान फिसल गया है। इसका मतलब ये कि भारत में भ्रष्टाचार बढ़ गया है। दुनियाभर के 180 देशों की सूची में भारत का स्थान अब 80वां है। वैश्विक स्तर पर भ्रष्टाचार की रोकथाम करने वाली संस्था ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल द्वारा जारी भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (सीपीआई) में ये नतीजे सामने आए हैं।
 
विशेषज्ञों और व्यापार के क्षेत्र से जुड़े लोगों के मुताबिक रिपोर्ट में किसी देश या क्षेत्र की रैंकिंग सार्वजनिक क्षेत्र में व्याप्त भ्रष्टाचार के आधार पर तय की गई है। इस रिपोर्ट को विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की वार्षिक बैठक में जारी किया गया है। भारत के साथ इस रैंक पर चीन, बेनिन, घाना और मोरक्को भी बने हुए हैं। वहीं पड़ोसी देश पाकिस्तान में हालात और भी खराब हैं, इस देश की रैंक 120वीं है। भारत बीते साल 78वें स्थान पर था। लेकिन इस बार दो पायदान फिसल गया है।
 
वहीं सूची में शीर्ष पर डेनमार्क और न्यूजीलैंड संयुक्त रूप से बने हुए हैं। उसके बाद फिनलैंड, सिंगापुर, स्वीडन और स्विटजरलैंड का स्थान है। सातवें स्थान पर नॉर्वे, आठवें पर नीदरलैंड और नौवें स्थान पर जर्मनी और लग्जमबर्ग हैं। रिपोर्ट को जारी करने के बाद ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल ने कहा कि उन देशों में भ्रष्टाचार अधिक है, जहां चुनाव के दौरान बड़े पैमाने पर पैसे का इस्तेमाल होता है और जहां सरकारें अमीर और रसूखदार लोगों की ही सुनती हैं।
 

 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »