20 Nov 2019, 02:42:31 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

उप्र में अयोध्या फैसला सुनने के लिए टीवी एवं मोबाइल से चिपके रहे लोग

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 10 2019 12:19AM | Updated Date: Nov 10 2019 12:19AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

लखनऊ। उच्चतम न्यायालय द्वारा शनिवार को अयोध्या प्रकरण के एतिहासिक फैसले को सुनने के लिए लखनऊ समेत प्रदेशभर लोगों काफी उत्साहित दिखे और टीवी एवं मोबाइल से चिपके नजर आये। उच्चतम न्यायालय  की संविधान पीठ ने जैसे ही पूर्वाह्न साढ़े दस बजे अयोध्या फैसला सुनाना शुरु किया लखनऊ में घरों में टीवी पर और घर के बाद सड़क ,चाय की दुकान एवं बाजार में बड़ी संख्या में युवा से लेकर सभी उम्र के लोग मोबाइल  पर फैसले को लाइव सुनते दिखे। स्मार्ट फोन पर फसला सुन रहे लोग काफी प्रसन्न नजर और एक दूसरे से शांति बनाये रखने की बात भी करते रहे। विभन्न क्षेत्रों में  शहरवासियों में उत्सुकता साफ नजर आयी।
 
लोग सुबह से ही अपने-अपने घरों में टीवी सेटों के आगे बैठकर फैसले की जानकारी लेते नजर आए। चाहे बूढे हो या जवान, महिलाओं या बच्चे सभी टीवी के सामने बैठकर एतिहासिक निर्णय का इंतजार करते नजर आए।  फैसला आने के बाद सभी लोगों ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने दोनों ही समुदाय की भावनाओं को ध्यान रखा है। दूसरी ओर फैसले के बाद शहर में शांति एवं सौहार्द बना रहे, इसके लिए पुलिस प्रशासन द्वारा सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। मुजफ्फनगर,शामली ,सहारनपुर, मेरठ और बिजनौर से मिली रिपोर्ट के अनुसार फैसले के मद्देनजर संवेदनशील स्थानों पर  पुलिसकर्मियों की गश्त जारी थी।
 
ताकि कोई अप्रिय घटना न हो सके लेकिन शहर के लोगों ने आपसी सदभाव का परिचय दिया और किसी भी स्थान से कोई तनाव की सूचना नहीं मिली। हालांकि बाजार पर उच्चतम न्यायालय  के फैसले का असर साफ नजर आया। बाजारों में अधिकाशं दुकानें बंद रही। बाजारों में लोगों की चहल पहल पहले की अपेक्षा शनिवार को कुछ कम रही। दुकानें खुली रही लेकिन कम ही ग्राहक दुकानों पर पहुंचे। अयोध्या फैसले का दोनों ही समुदाय के लोगों ने स्वागत करते हुए सौहार्द का परिचय दिया। एतिहासिक निर्णय के बाद प्रदेश में शांति रहने पर अधिकारियों ने भी राहत की सांस ली।    
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »