27 May 2019, 10:58:21 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

मुंबई। एफसी गोवा ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के दूसरे सेमीफाइनल के पहले चरण के मैच में मेजबान मुंबई सिटी एफसी को मुंबई फुटबॉल एरेना में 5-1 से हरा दिया। मैच का पहला गोल हालांकि मुंबई ने किया, लेकिन गोवा ने दमदार वापसी करते हुए पहले हाफ में दो और दूसरे हाफ में तीन गोल कर इस सीजन में मुंबई पर अपनी पहली जीत हासिल की। दोनों टीमें दूसरे सेमीफाइनल का दूसरा चरण गोवा के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में 12 मार्च को खेलेंगी। इस जीत ने गोवा के फाइनल में जाने की उम्मीदों को बेहद मजबूत कर दिया है क्योंकि अब अगर मुंबई को फाइनल में जाना है तो उसे गोवा को उसके घर में बड़े अंतर से हराना होगा। 
 
इस सीजन गोवा के खिलाफ खेले गए बीते दो मैचों में जीत हासिल करने वाली मुंबई मानसिक बढ़त के साथ उतरी थी। शनिवार को उसने मैच की शुरुआत से अपने खेल से यह साबित कर दिया था। मुंबई के अर्नाल्ड इसोको ने सातवें और 12वें मिनट में दो प्रयास किए जहां गोवा के गोलकीपर ने उन्हें रोक लिया। इस बीच 18वें मिनट में मुंबई के राफेल बास्तोस को पीला कार्ड मिला। यहां मुंबई को थोड़ी परेशानी हुई लेकिन कुछ देर बाद ही बास्तोस ने अपनी टीम की चिंता को ठंडा कर दिया।
 
20वें मिनट में बास्तोस और इसोको की जुगलबंदी ने मुंबई को 1-0 से आगे कर दिया। इसोको ने गेंद को अपने पास ले तेजी से दौड़ लगाई। फिर मौका देखते हुए बास्तोस को पास दिया। बास्तोस बॉक्स में पहुंचे और शानदार तरीके से गेंद को नेट में डाल मुंबई को एक गोल की बढ़त दिला दी। मेजबान टीम के प्रशंसक झूमने लगे थे। उनकी यह खुशी हालांकि ज्यादा देर टिक नहीं पाई क्योंकि 25वें मिनट में जॉयनेर लॉरेंसो को पीला कार्ड मिला, लेकिन इससे भी बुरा इसके बाद हुआ। गोवा ने 31वें मिनट में बराबरी कर ली। गोवा के स्टार फेरान कोरोमिनास ने 20 यार्ड की दूरी से झन्नाटेदार शॉट लगाया जो सीधा मुंबई के गोलकीपर अमरिंदर सिंह के पास गया। अमरिंदर ने गेंद को अपने शरीर से रोका जिससे गेंद टकरा पर वापस जाने लगी और तभी जैकीचंद ने सामने से गेंद को नेट में डाल स्कोर बराबरी पर ला दिया। 
 
मुंबई की परेशानी यहां खत्म नहीं हुई। 39वें मिनट में माउतार्दा फॉल ने गोवा को बढ़त दिला दी। ब्रेंडन फर्नाडेज ने कॉर्नर किक ली जिसे ईदू बेदिया ने पोस्ट से दूर भेज दिया। माउतार्दा के पास गेंद आई जिन्होंने हैडर से गेंद को गोल में डाल गोवा को 2-1 की बढ़त दिला दी। पहले हाफ के आखिरी मिनट में बास्तोस ने मुंबई के लिए दूसरा गोल कर दिया लेकिन लाइनमैन ने इसे ऑफ साइड करार दे मेजबान टीम को निराश किया और उसने पहले हाफ का अंत एक गोल पीछे रहते हुए किया।
 
मेजबान टीम की कोशिश थी कि वह दूसरे हाफ में बराबरी करे जिस पर मेहमान टीम ने पूरी तरह से पानी फेर दिया। पहले हाफ में गोल करने से चूकने वाले कोरोमिनास 51वें मिनट में नहीं चूके और जैकीचंद की मदद से गोल कर गए। यहां मुंबई के खराब डिफेंस के कारण उसे गोल खाना पड़ा। खराब डिफेंस ने जैकीचंद को बॉक्स में आने का मौका दिया। जैकीचंद ने खाली खड़े कोरोमिनास को गेंद दी और इस धुरंधर ने बिना समय जाया किए गेंद को नेट में डाल गोवा की बढ़त को दोगुना कर दिया। 
 
मुंबई की परेशानी यहां खत्म नहीं हुई। माउतार्दा ने 58वें मिनट में बेहतरीन हैडर के जरिए इस मैच में अपना दूसरा और गोवा का चौथा गोल किया। यह उनके पहले गोल की तरह ही था। ब्रेंडन फर्नांडेज ने कॉर्नर लिया जिस पर माउतार्दा ने हैडर से गोल किया। मुंबई बदलाव कर गोल करने के लिए प्रयासरत थी तो वहीं गोवा रूकने का नाम नहीं ले रही थी। माउतोर्दा की मदद करने वाले फर्नांडेज इस बार गोलशीट में अपना नाम दर्ज करा लिया। उन्होंने यह गोल 82वें मिनट में किया। बॉक्स के बाएं कोने पर गेंद उनके पास आई जिसे उन्हें अमरिंदर को पछाड़ नेट में डाल गोवा को 5-1 से आगे कर दिया। इस गोल ने इस मैच में मुंबई के ताबूत में आखिरी कील ठोक दी। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »