17 Feb 2020, 18:23:23 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

मुंबई। साख निर्धारण तथा बाजार अध्ययन कंपनी क्रिसिल ने अगले वित्त वर्ष में ग्रामीण माँग में सुधार का अनुमान जताते हुये मंगलवार को कहा कि इससे रोजमर्रा के इस्तेमाल वाली वस्तुओं (एफएमसीजी) का कारोबार जोर पकड़ेगा और यह उद्योग दहाई अंक की विकास दर हासिल कर लेगा। क्रिसिल की यहाँ जारी रिपोर्ट में कहा गया है ‘‘इस साल मार्च-अप्रैल से किसानों की आमदनी बढ़ने से ग्रामीण आय में धीरे-धीरे वृद्धि होगी।
 
पिछले साल बेहतर मानसून के बाद अभी जलाशयों में जमा पानी का स्तर अच्छा है। रबी उत्पादन भी सात-आठ प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है।’’ रिपोर्ट के अनुसार, आमदनी बढ़ने से ग्रामीण इलाकों में माँग भी बढ़ेगी हालाँकि शहरी इलाकों में माँग में सुस्ती बनी रहेगी। ग्रामीण माँग बढ़ने से अगले वित्त वर्ष में एफएमसीजी क्षेत्र का कारोबार 10-11 प्रतिशत की दर से बढ़ने की उम्मीद है जबकि चालू वित्त वर्ष में इसके 8-9 प्रतिशत की दर से बढ़ने का अनुमान है। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »