25 Mar 2019, 11:19:00 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

छह महीने बाद सेंसेक्स हुआ 38 हजारी, निफ्टी मे भी तेजी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Mar 15 2019 5:28PM | Updated Date: Mar 15 2019 5:30PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुंबई। विदेशों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच बैंकिंग एवं वित्तीय कंपनियों में लिवाली से शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजारों में लगातार पांचवें दिन तेजी रही और बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स छह महीने बाद एक बार फिर 38 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर के पार निकल गया। बैंकिंग एवं वित्तीय कंपनियों के साथ ही आईटी एवं टैक, तेल एवं गैस तथा ऊर्जा क्षेत्र की कंपनियों में लिवाली से सेंसेक्स 269.43 अंक यानी 0.71 प्रतिशत चढ़कर 38,024.32 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 83.60 अंक यानी 0.74 प्रतिशत की बढ़त में छह महीने के उच्चतम स्तर 11,426.85 अंक पर पहुँच गया।
 
सेंसेक्स 5.34 अंक चढ़कर 37,760.23 अंक पर खुला और यही इसका दिवस का निचला स्तर रहा। आरबीआई द्वारा बैंकों की तरलता बढ़ाने के उपायों की घोषणा के बाद से ही बैंकिंग क्षेत्र में तेजी बनी हुई है और बाजार की तेजी में इस क्षेत्र का सबसे बड़ा योगदान रहा। लिवाली के दम पर लगातार बढ़ता हुआ सेंसेक्स कारोबार के दौरान एक समय 38,254.77 अंक के दिवस के उच्चतम पर पहुँच गया। हालाँकि आखिरी घंटे में इसकी तेजी अचानक कुछ कम हुई और यह गत दिवस के मुकाबले 269.43 अंक चढ़कर 38,024.32 अंक पर बंद हुआ। यह पिछले साल 14 सितम्बर के बाद का इसका उच्चतम स्तर है।
 
सेंसेक्स की 30 में से 20 कंपनियों के शेयर हरे निशान में रहे जबकि अन्य 10 में गिरावट रही। कोटक महिंद्रा बैंक ने सवा चार प्रतिशत से ज्यादा का मुनाफा कमाया। एनटीपीसी, टीसीएस, पावरग्रिड और ओएनजीसी के शेयर 2.50 प्रतिशत से 2.84 प्रतिशत तक बढ़े। हिंदुस्तान यूनिलिवर में करीब सवा दो फीसदी की गिरावट रही। निफ्टी भी 33.60 अंक की तेजी के साथ 11,376.85 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान इसका दिवस का निचला स्तर 11,370.80 अंक और उच्चतम स्तर 11,487 अंक रहा। कारोबार की समाप्ति पर यह गत दिवस की तुलना में 83.60 अंक ऊपर 11,426.85 अंक पर बंद हुआ।
 
निफ्टी की 50 में से 32 कंपनियों के शेयरों में तेजी और 18 में गिरावट रही। बड़ी कंपनियों की तरह मझौली कंपनियों में भी लिवाली का जोर रहा। बीएसई का मिडकैप 0.55 प्रतिशत चढ़कर 15,171.52 अंक पर बंद हुआ। इसके विपरीत छोटी कंपनियों का सूचकांक स्मॉलकैप 0.34 अंक लुढ़ककर 14,837.18 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,860 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 1,478 के शेयर लुढ़क गये और 1,205 के बढ़त में बंद हुये। अन्य 177 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित रहे। 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »