21 Oct 2018, 07:06:46 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » World

गर्लफ्रेंड की 10 साल की बेटी के साथ रेप, कोर्ट ने दी 160 साल की सजा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 23 2018 11:08AM | Updated Date: Sep 23 2018 11:08AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

अटलांटा। अमेरिका की एक अदालत ने 10 साल की मासूम के साथ रेप के आरोपी को दोषी मानते हुए 160 साल की सजा सुनाई है। वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार, कोर्ट ने दोषी निकोलस डिओन को कई बार जघन्य तरीके से गर्लफ्रेंड की 10 साल की बेटी का रेप करने का दोषी करार दिया और इस अपराध को दिल हिला देनेवाला करार दिया। मासूम ने एक बच्चे को जन्म भी दिया है। कोर्ट ने आरोपी पर 136 साल तक परोल नहीं कर सकने का भी दंड लगाया है। लगभग 2 साल तक चली सुनवाई में कोर्ट ने निकोलस को दोषी ठहराते हुए यह फैसला सुनाया है। 
 
34 साल के निकोलस को कोर्ट ने 10 से अधिक बार मासूम के साथ रेप का दोषी पाया। निकोलस ने पहली बार बच्ची का रेप तब किया था, जब वह सिर्फ 8 साल की ही थी। अपने बचाव में निकोलस ने कोर्ट को गुमराह करने की भी कोशिश की और कहा कि उसने कभी बच्ची के साथ सेक्स नहीं किया। उसकी गर्लफ्रेंड ने ही अपनी बेटी के शरीर में जबरन उसका स्पर्म डाल दिया था। पीड़िता की उम्र इस वक्त 12 साल है और सितंबर 2017 में रेप के कारण ठहरे गर्भ से उसने एक बेटे को जन्म दिया।
 
पीड़ित मासूम अपनी मां के साथ अटलांटा में रहती थी। यहां मां-बेटी के साथ ही निकोलस भी रहने लगा और उसके संबंध बच्ची की मां से बन गए। इसी दौरान निकोलस ने आठ साल की मासूम को अपनी हवस का शिकार बनाया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मां गर्भवती नाबालिग बच्ची का अबॉर्शन भी करवाना चाहती थी, ताकि किसी को इस बारे में पता नहीं चल सके। हालांकि, स्थानीय लोगों के विरोध के कारण ऐसा नहीं हो पाया। पीड़िता ने बताया कि अल्ट्रासाउंड क्लीनिक के बाहर एक ग्रुप के प्रदर्शन के कारण मेडिकल सुविधा नहीं मिली और अबॉर्शन नहीं हुआ। बच्ची की मां नहीं चाहती थी कि बेटी के बच्चे का पिता कौन है यह पता चले, इसलिए वह अबॉर्शन करवाना चाहती थी। बच्ची की मां पर भी अपराधी का साथ देने, गुनाह छुपाने के लिए ट्रायल चल रहा है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »