21 Apr 2019, 07:58:52 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » World

नीरव मोदी गिरफ्तार 29 तक जेल में रहेगा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Mar 21 2019 2:03AM | Updated Date: Mar 21 2019 2:03AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

लंदन। पंजाब नेशनल बैंक से 13 हजार करोड़ रुपए से अधिक के घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया है। नीरव मोदी को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया गया, जहां उसकी जमानत अर्जी भी खारिज हो गई। इसके साथ ही मामले की सुनवाई भी स्थगित हो गई और अब चीफ मजिस्ट्रेट के सामने 29 मार्च को अगली सुनवाई होगी। ऐसे में साफ है कि नीरव मोदी 29 मार्च तक कस्टडी में ही रहेगा। वेस्टमिंस्टर अदालत भारत में उसके प्रत्यर्पण को लेकर मामले की सुनवाई करेगी। पहले माना जा रहा था कि नीरव को लंदन कोर्ट से जमानत मिल सकती है। इसके बाद आगे मामले को विजय माल्या के केस की तरह चलाया जाएगा। हालांकि बुधवार को वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने नीरव की जमानत अर्जी खारिज कर दी। सूत्रों का कहना है कि प्रवर्तन निदेशालय की ओर से नीरव मोदी की संपत्तियों को बेचा जा सकता है। 
भागने का डर है-कोर्ट
जज ने अपने आदेश में कहा कि यह मामला मोटी रकम की जालसाजी से जुड़ा हुआ है और आरोपी के भागने का भी डर है। नीरव ने जमानत याचिका दायर कर कहा था कि उसके पास बचाव में कई दलीलें हैं। उसने पांच लाख पाउंड सिक्योरिटी जमानत के रूप में देने का प्रस्ताव रखा, लेकिन कोर्ट ने इस नामंजूर कर दिया और जमानत याचिका खारिज की दी।
 
जारी किया था अरेस्ट वॉरंट
वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने भारत के प्रवर्तन निदेशालय की ओर से प्रत्यर्पण की अर्जी दाखिल करने के जवाब में यह अरेस्ट वॉरंट जारी किया था। इसके बाद से ही कहा जा रहा था कि नीरव मोदी को कभी भी अरेस्ट किया जा सकता है। अधिकारियों ने बताया कि जांच एजेंसी को हाल में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत द्वारा वारंट जारी करने के बारे में सूचित किया गया था और नीरव मोदी को जल्द ही स्थानीय पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने की बात कही गई थी।

लंदन में चला रहा कारोबार
ब्रिटेन के एक समाचार पत्र ने हाल ही में एक रिपोर्ट और वीडियो जारी किया था, जिसमें मोदी लंदन की सड़कों पर घूमता दिखाई दे रहा था और बताया गया कि भगोड़ा हीरा व्यापारी शहर के वेस्ट एंड में 80 लाख पाउंड के एक अपार्टमेंट में रह रहा है तथा वह हीरे का नया कारोबार भी चला रहा है। प्रवर्तन निदेशालय और केंद्रीय जांच ब्यूरो के आग्रह पर इंटरपोल ने नीरव मोदी के खिलाफ जुलाई 2018 में रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था।
 
पत्नी के खिलाफ भी वारंट
लंदन में नीरव की गिरफ्तारी के बीच भारत में अब उसकी संपत्तियों को भी बेचा जाएगा। सूत्रों के मुताबिक, मुंबई स्थित प्रिवेंशन आॅफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट कोर्ट ने प्रवर्तन निदेशालय को इसकी इजाजत दे दी है। कोर्ट ने नीरव की पत्नी अमी मोदी के खिलाफ भी गैरजमानती वारंट जारी किया है। ईडी सूत्रों ने बताया कि कोर्ट ने नीरव मोदी की 173 मंहगी पेंटिंग्स और 11 लग्जरी कारों को बेचने की मंजूरी दी है। नीलामी के जरिये इन संपत्तियों को बेचा जाएगा। पेंटिंग्स की कीमत 57.72 करोड़ रुपए आंकी गयी है। रॉल्स रॉयस, पोर्च, मर्सिडीज और टोयोटा फोर्च्युनर जैसी महंगी गाड़ियों को बेचा जाएगा । 
 
यह है घोटाला
11,400 हजार करोड़ का पीएनबी घोटाला देश का सबसे बड़ा बैंकिंग घोटाला है। नीरव मोदी इसका मुख्य आरोपी है। इसमें नीरव के मामा मेहुल चौकसी भी शामिल हैं। 7 साल तक पीएनबी घोटाला चलता रहा, लेकिन आरबीआई और वित्त मंत्रालय को इसकी भनक तक नहीं लगी। इस घोटाले में बैंक के कई कर्मचारी भी शामिल थे जिनपर कार्रवाई की जा रही है। 

पीएनबी के शेयरों में उछाल
नीरव मोदी के ब्रिटेन में गिरफ्तार होने के बाद बुधवार को पंजाब नैशनल बैंक के शेयरों में चार फीसदी का उछाल आया है। बंबई स्टॉक एक्सचेंज  पर दोपहर बाद के कारोबार के दौरान पिछले सत्र के मुकाबले चार फीसदी उछलने के बाद पीएनबी के शेयर बुधवार को कारोबार के अंत में 3.05 रुपये यानी 3.37 फीसदी तेजी के साथ 93.55 रुपये प्रति शेयर पर बंद हुए।

 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »