18 Oct 2019, 15:29:57 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

प्रयागराज में बाढ़ पीड़ित को 24 घंटे के भीतर उपलब्ध करायी जाए राहत : योगी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 20 2019 5:13PM | Updated Date: Sep 20 2019 5:13PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि बाढ़ पीड़तिा को  24 घंटे के भीतर राहत सामग्री और मुआवजा की राशि उपलब्ध करायी जाए। योगी ने शुक्रवार को कैंट हाई स्कूल में बने बाढ़ राहत शिविर में पीड़तिों को राहत सामग्री वितरण करने के बाद  पत्रकारों से कहा कि कहा कि बाढ़ एक आपदा है। आपदा राहत के लिए प्रत्येक जिले में पीड़ति व्यक्ति के लिए पर्याप्त धनराशि उपलब्ध कराई गयी है। उन्होने कहा कि यद्यपि प्रदेश में पूरे बरसात भर बाढ़ की समस्या नहीं थी।
 
समय रहते बाढ़ से बचाव के सारे उपाय कर लिए गये थे। अंतिम क्षणों में राजस्थान और मध्य प्रदेश के केन और बेतवा नदियों में बड़ी मात्रा में जल छोड़े जाने के कारण यमुना का जलस्तर में बढोत्तरी हुई। मुख्यमंत्री ने बताया कि इटावा, हमीरपुर और औरैया के कुछ क्षेत्र तथा वाराणसी, गाजीपुर और बलिया के निचले इलाकों में बाढ का पानी प्रवेश करने से प्रदेश में करीब एक लाख तक की आबादी इससे प्रभावित हुई है।
 
योगी ने कहा कि बाढ़ प्रभावित सभी क्षेत्रों में नौकाएं लगाकर सभी को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने, सुरक्षा की दृष्टि से निरंतर पेट्रोलिंग करने के निर्देश दिये है। जिन बाढ़ पीड़ित को सुरक्षित स्थान मुहैया कराया गया है उन्हें भोजन और शुद्ध जल की व्यवस्था करायी जाए। उन्होंने कहा कि पीड़ति परिवारों को राहत सामग्री में दस किलो आटा, दस किलो चावल, दस किलो आलू, दाल, तेल नमक, लाई अन्य सामान उपलब्ध कराने के लिए प्रशासन को स्पष्ट निर्देश दिए गये हैं।
 
उन्होने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में पशुओं के चारे की व्यवस्था पर्याप्त मात्रा में की जा रही है। जानवरों के लिये भी दवा आदि उपलब्ध कराने के लिए निर्देश दिए गये हैं। जनहानि या किसी प्रकार की धनहानि पर 24 घंटे के भीतर राहत सामग्री और मुआवजा की राशि पीड़ति परिवारों  पहुचायी जा रही है। योगी ने कहा ‘‘मैं आज प्रयागराज, वाराणसी और गाजीपुर के जल भराव वाले क्षेत्रों में निरीक्षण करने के लिए निकला हूं।
 
यहां पर कुछ पीड़ति लोगों से मुलाकात की है और राहत सामग्री वितरण किया। उन्होंने कहा कि शाम से जलस्तर में कमी शुरू होने की संभावना है। पानी घटने से लोगों को राहत मिलेगी। इस बीच राहत शिविर राहत सामग्री लेने पहुंची सदर निवासी रूचि पाल तेज धूप के कारण कुछ समय के लिए बेहोश हो गयी थी जिसे मौके पर उपस्थित चिकित्सकों ने उपचार मुहैया कराया।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »