14 Nov 2019, 05:01:28 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

एआईटीए बनाम भूपति : महासंघ ने कहा, रोहित राजपाल ही हैं कप्तान

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 7 2019 3:18PM | Updated Date: Nov 7 2019 3:18PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

कोलकाता। महेश भूपति बेशक यह मानने को तैयार नहीं हैं कि उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ भारत की डेविस कप टीम के नॉन प्लेइंग कैप्टन के पद से हटा दिया गया है, लेकिन अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) ने बुधवार को साफ कर दिया है कि संघ का रोहित राजपाल को कप्तान नियुक्त करने का फैसला बरकरार रहेगा। एआईटीए के महासचिव हिरनमॉय चटर्जी ने आईएएनएस से कहा, "पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले डेविस कप मुकाबले की जहां तक बात है तो इस मैच के लिए कप्तान को लेकर कोई बदलाव नहीं होगा।
 
चटर्जी ने बताया कि भूपति का करार पहले ही खत्म हो चुका है और इटली के खिलाफ फरवरी में कोलकाता में खेले गए मैच में उनके कार्यकाल को विस्तार दिया गया था। उन्होंने कहा, "उनका करार 2018 में ही खत्म हो गया था। उन्होंने अपने आप को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मैच के लिए उपलब्ध नहीं बताया था, इसलिए हमने उन्हें बदल दिया। एआईटीए ने सोमवार को रोहित राजपाल को टीम का कप्तान बनाया था। भारत और पाकिस्तान के इस मैच को लेकर काफी विवाद रहा।
 
भारत ने मैच के लिए सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए पाकिस्तान जाने से इनकार कर दिया था और इसी कारण कई खिलाड़ियों ने मैच के लिए अपने आप को अनुपलब्ध बताया था। इनमें भूपति के अलावा टीम के सीनियर खिलाड़ी रोहन बोपन्ना भी शामिल हैं। अंतर्राष्ट्रीय टेनिस महासंघ (आईटीएफ) ने हालांकि मैच को तटस्थ स्थान को आयोजित कराने का फैसला लिया है लेकिन एआईटीए की योजनाओं में इससे कोई बदलाव नहीं होने जा रहा है।
 
कप्तान को लेकर विवाद बोपन्ना के ट्वीट के बाद से शुरू हुआ था जिसमें मंगलवार को उन्होंने लिखा था कि वह आईटीएफ के फैसले से पहले ही एआईटीए द्वारा पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मैच के लिए कप्तान बदलने से हैरान हैं। भूपति ने भी कहा था कि उन्हें पाकिस्तान जाने में असमर्थता जताई थी और चूंकि अब मैच पाकिस्तान में नहीं हो रहा है, इसलिए वह ऐसा मानकर चल रहे हैं कि वह अभी भी टीम के कप्तान हैं क्योंकि सोमवार के बाद से एआईटीए ने उनसे बात नहीं की है। भूपति ने ट्वीट किया, "उन लोगों के लिए जो मेरी चिंता करते हैं और मेरा विचार जानना चाहते हैं, मुझे मिस्टर चटर्जी (एआआटीए के महासचिव) ने सोमवार को फोन किया और बताया कि रोहित कप्तान के तौर पर मेरा स्थान ले रहे हैं क्योंकि मैं पाकिस्तान जाने में सहज नहीं हूं।
 
उन्होंने लिखा, "मेरी एआईटीए से सोमवार से बात नहीं हुई है और आईटीएफ द्वारा खिलाड़ियों की स्थल को लेकर जताई जा रही चिंता के कारण अंतर्राष्ट्रीय महासंघ ने मैच को तटस्थ स्थान पर कराने का फैसला किया है- इसलिए मैं तो उपलब्ध हूं और मुझे लगता है कि मैं अभी भी कप्तान हूं तब तक जब तक मैं इसके विपरीत बात नहीं सुन लेता। भूपति को दिसंबर-2016 में टीम का नॉन प्लेइंग कप्तान नियुक्त किया गया था। वरिष्ठ खिलाड़ी लिएंडर पेस, साकेत मेयनेनी, जीवन नेदुनचेझियानी और एन. श्रीराम बालाजी ने अब टीम चयन के लिए अपने आप को उपलब्ध बताया है। टीम की घोषणा नौ नवंबर को हो सकती है। 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »