27 Jun 2019, 06:20:42 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business » Stock market

लगातार आठवें दिन जारी रही शेयर बाजार में गिरावट

By Dabangdunia News Service | Publish Date: May 10 2019 4:33PM | Updated Date: May 10 2019 4:33PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

मुंबई। अमेरिका के चीन के 200 अरब डॉलर के उत्पाद पर आयात शुल्क बढाये जाने के बावजूद व्यापार समझौते के प्रति निवेशकों की धारणा मजबूत रहने से विदेशी बाजारों में तेजी रही लेकिन टाटा स्टील, एचसीएल टेक और यस बैंक जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई बिकवाली के दबाव में शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजार लगातार आठवें दिन लाल निशान में बंद हुए।

 
धातु और आईटी समूह की कंपनियों के धराशायी होने से आज बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 95.92 अंक टूटकर 37,462.99 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 22.90 अंक उतरकर 11,278.90 अंक पर बंद हुआ।
 
विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बीच सेंसेक्स तेजी के साथ 37,632.36 अंक पर खुला। कारोबार के शुरुआती पहर में यह 37,721.98 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। अमेरिका और चीन के बीच बढ़े विवाद का विदेशी बाजारों के साथ सेंसेक्स पर भी असर रहा लेकिन बाद में निवेशक इससे उबरते हुए लिवाल बने। 
 
अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में रही तेजी और डॉलर की तुलना में भारतीय मुद्रा की गिरावट का निवेश धारणा पर नकारात्मक असर रहा जिससे यह 37,370.39 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़का। भारतीय स्टेट बैंक के परिणाम से उत्साहित निवेशकों की लिवाली के दम पर सेंसेक्स तेज गिरावट से उबरता हुआ अंतत: गत दिवस की तुलना में 0.26 फीसदी की गिरावट में 37,462.99 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से नौ कंपनियां हरे निशान में रहीं जबकि शेष 21 लाल निशान में रहीं। एसबीआई के शेयरो के भाव में सर्वाधिक तेजी रही।
 
निफ्टी की शुरुआत भी तेजी में 11,314.15 अंक से हुई। कारोबार के दौरान 11,345.80 अंक के दिवस के उच्चतम और 11,251.05 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.20 प्रतिशत की गिरावट में 11,278.90 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 29 कंपनियां गिरावट में और 19 तेजी में रहीं जबकि दो कंपनियों के शेयरों के भाव अपरिवर्तित बंद हुए।
 
दिग्गज कंपनियों के विपरीत छोटी और मंझोली कंपनियों में लिवाली का जोर रहा। बीएसई का मिडकैप 0.24 प्रतिशत यानी 34.33 अंक की तेजी में 14,389.76 अंक पर और स्मॉलकैप 0.21 प्रतिशत यानी 29.40 अंक की बढ़त में 14,105.73 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,652 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें 1,274 में गिरावट और 1,212 में तेजी रही जबकि 166 कंपनियों के शेयरों के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »