06 Dec 2019, 14:40:14 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

जीतू सोनी की तलाश जारी, दस हजार का इनाम घोषित, बेटा अमित 4 दिन की पुलिस रिमांड पर

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Dec 3 2019 12:39AM | Updated Date: Dec 3 2019 1:22AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

इंदौर। लोकस्वामी अखबार के मालिक जीतू सोनी के चार दफ्तरों पर छापे के बाद अब पुलिस ने फरार जीतू सोनी पर दस हजार रुपए के इनाम की घोषणा की है। वहीं उनके बेटे अमित सोनी को सोमवार को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने उसे चार दिन के रिमांड पर लिया है। एमआईजी पुलिस ने सबसे पहले शनिवार को जीतू सोनी और उनके बेटे अमित सोनी के खिलाफ आईटी एक्ट व साइबर क्राइम की धाराओं में केस दर्ज कर एक साथ सोनी के गीताभवन के पास स्थित होटल माय होम, कनाड़िया रोड स्थित घर, तुकोगंज स्थित बेस्ट वेस्टर्न होटल, व एमआईजी स्थित लोकस्वामी अखबार के दफ्तर पर छापे मारे थे।
 
माय होम में पुलिस के अलावा, आबकारी, बिजली, नगर निगम, खाद्य विभाग ने भी दबिश दी थी। इस दौरान माय होम से पुलिस को तलाशी के दौरान 67 युवतियां व बच्चे मिले थे। इन युवतियों ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि उन्हें बार में डांस के लिए रखा गया था। घर से पुलिस को तीन दर्जन से ज्यादा कारतूस मिले थे। इसके बाद तुकोगंज थाना पुलिस, कनाड़िया थाना पुलिस व पलासिया पुलिस ने सोनी पर केस दर्ज किए थे। 
 
युवतियों को बाहर नहीं निकलने दिया जाता था :- पुलिस के मुताबिक माय होम से मिलीं युवतियों ने पूछताछ में बताया कि उन्हें बार में डांस के लिए रखा गया था। डांस के दौरान  लोग नोट उड़ाते थे। इन युवतियों को बंधक बनाकर रखा गया था। माय होम के ऊपर बने कमरों में ये युवतियां छोटे-छोटे कंपार्टमेंट में रहती थीं। इन्हे यहीं पर खाना दिया जाता था। 24 घंटे इन पर बाउंसरों की नजरें रहती थीं। इन्हें बाहर भी नहीं निकलने दिया जाता था। युवतियों के बयानों के बाद पलासिया पुलिस ने होटल संचालक जीतू सोनी, उनके बेटे अमित सोनी, मैनेजर जे. वरप्रसाद राव व अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया था। 
 
दबिश के दौरान बेटों ने किया था हंगामा :- जीतू सोनी के घर पर दबिश के दौरान उनके बेटे लक्की व विक्की ने हंगामा किया था। तलाशी के दौरान पुलिस को घर से 37 कारतूस मिले थे। इस बारे में जीतू के बेटे अमित के पास कोई जवाब नहीं था। पहले कनाड़िया पुलिस ने  लक्की व विक्की के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा डालने का केस दर्ज किया। उसके बाद पुलिस ने अमित सोनी पर आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया। तुकोगंज पुलिस ने बेस्ट वेस्टर्न होटल में कार्रवाई के दौरान यह पाया कि जीतू सोनी ने अपने कर्मचारियों की जानकारी थाने पर नहीं दी थी। इसके आधार पर तुकोगंज पुलिस ने होटल के मालिक व प्रबंधक पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की है। 
 
पलासिया पुलिस ने गिरफ्तार अमित सोनी को सोमवार को कोर्ट में पेश किया जहां से पुलिस को अमित का चार दिन का रिमांड मिला है। बताया जा रहा है कि माय होम से जो युवतियां मिली हैं वे पश्चिम बंगाल की रहने वाली हैं। उन्हें यहां पर लाकर रखा गया था। इस बात की जांच के लिए पुलिस अमित को पश्चिम बंगाल भी ले जा सकती है। जीतू सोनी छापे के पहले ही चले गए थे। पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम जीतू सोनी की तलाश कर रही है। एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र के मुताबिक जीतू सोनी की गिरफ्तारी पर 10 हजार रुपए के इनाम की घोषणा की गई है।
 
अखबार के ऑफिस में ले गई पुलिस :- सोमवार को पुलिस अमित सोनी को जांच के लिए अखबार के ऑफिस लेकर पहुंची । पुलिस का कहना था कि ऑफिस से कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज मिल सकते हैं। इस बात को लेकर ऑफिस की चेकिंग की गई। ऑफिस को सील करने के बारे में अधिकारियों ने कहा कि उन्हें जिस हिस्से में जांच करनी है, उसी हिस्से को सील रखा गया है। बाकी ऑफिस पर करवाई हो चुकी है।
 
दस्तावेजों  की जांच :- पुलिस को जीतू सोनी के घर से जमीन, मकान, दुकानों के कई दस्तावेज मिले हैं। बताया जा रहा है कि इन रजिस्ट्रियों की संख्या 30 से ज्यादा है। इन दस्तावेजों की जांच अब पुलिस की टीम अन्य विभागों के साथ कर रही है। इस मामले में सोमवार को एक बड़े अधिकारी ने अपने अधीनस्थों के साथ मीटिंग भी की।
 
नगर निगम ने संपत्तियों की तैयार की कुंडली 
 
जीतू सोनी की संपत्तियों की जांच को लेकर अफसरों की बैठक हुई। इसमें तय किया गया कि सोनी की सभी संपत्तियों की जांच की जाए। बैठक के बाद संबंधित अधिकारियों को अपने-अपने जोन में रवाना कर दिया। इसी के तहत उनकी संपत्तियों की कुंडली तैयार की गई। इसमें नक्शे के विपरीत निर्माण की जांच हुई। गोपनीय जांच कर रिपोर्ट वरिष्ठ अधिकारियों को देंगे और उसी आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। बताया जा रहा है कि सुबह नगर निगम की टीम जीतू सोनी के गीता भवन स्थित माय होम पर पहुंची। यहां पर बिल्डिंग की नपती करना शुरू कर दी गई। इस दौरान निगम की भारी-भरकम टीम मौके पर मौजूद थी।
 
इसी तरह दूसरा मामला साउथ तुकोगंज का सामने आया है। यहां होटल बेस्ट वेस्ट टर्न पर भी निगम की टीम पहुंची। बारीकी से जांच की गई। साथ ही कनाड़िया रोड पर उनके घर की नपती भी कर ली गई है। इसके अलावा पलासिया स्थित मांगीलाल दूध वाले के सामने बने ओटू की भी नपती कर ली गई। खास बात यह है कि यह पूरा मामला गोपनीय रखा गया है। इसीलिए निगम के वरिष्ठ अधिकारियों से लेकर जोनल अधिकारी व भवन अधिकारियों से लेकर भवन निरीक्षकों ने चुप्पी साध ली है। हालांकि यह स्पष्ट कर दिया है कि नोटिस जारी कर दिया है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »