18 Jul 2018, 14:08:43 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport » Other Sports

एशियाई जूनियर चैंपियनशिप में खेलेगा पाकिस्तानी - गृह मंत्रालय ने दी मंजूरी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 12 2018 2:49PM | Updated Date: Jul 12 2018 2:50PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। पाकिस्तानी पहलवानों के एशियाई जूनियर चैंपियनशिप में भाग लेने का रास्ता बुधवार को साफ हो गया। भारतीय कुश्ती महासंघ ने पड़ोसी देश के दल के मूवमेंट को टूर्नामेंट स्थल तक ही सीमित रखने का वादा किया, जिसके बाद गृह मंत्रालय ने पाकिस्तानी टीम को मंजूरी दी। महासंघ को मंगलवार को ही इस छह दिवसीय चैंपियनशिप के लिए मंजूरी मिल गई थी, लेकिन गृह मंत्रालय ने इसमें पाकिस्तान, इराक और अफगानिस्तान की भागीदारी पर रोक लगा दी थी।     
 
मंत्रालय ने मंजूरी देने से किया था इनकार
महासंघ को डर था कि अगर पाकिस्तानी पहलवानों को वीजा नहीं दिया गया तो विश्व संस्था यूनाईटेड वर्ल्ड रेसलिंग (यूडब्ल्यूडब्ल्यू) उस पर जुर्माना लगा सकती है। पाकिस्तानी पहलवान 2015 एशियाई कैडेट चैंपियनशिप में भाग नहीं ले पाए थे, क्योंकि गृह मंत्रालय ने उन्हें मंजूरी देने से इनकार कर दिया था। भारतीय कुश्ती महासंघ के सहायक सचिव विनोद तोमर ने कहा, हमें गृह मंत्रालय से संदेश मिला कि पाकिस्तान के पहलवान भारत आकर प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं। तोमर ने कहा, लेकिन इसके लिए हमने अपराध शाखा से वादा करना पड़ा कि हम पाकिस्तानी पहलवानों की जिम्मेदारी लेंगे। हमें सुनिश्चित करना होगा कि पाकिस्तानी पहलवान होटल और प्रतियोगिता स्थल के अलावा कहीं और नहीं जाएं।
 
17 से 22 जुलाई तक आयोजन
भारतीय महासंघ के अधिकारी ने यह भी कहा कि इराक और अफगानिस्तान के पहलवानों ने टूर्नामेंट-फ्री स्टाइल और ग्रीको रोमन-के लिए कोई भी प्रविष्टि नहीं भेजी है। इस प्रतियोगिता का आयोजन 17 से 22 जुलाई तक केडी जाधव स्टेडियम में किया जायेगा। भारतीय महासंघ के अध्यक्ष बीबी शरण सिंह ने इस मुद्दे को सुलझाने के लिये गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात का समय मांगा था, लेकिन इसकी जरूरत ही नहीं पड़ी। महासंघ के सचिव वीएन प्रसूद ने इस फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा, यह हमारे और चैंपियनशिप के लिए अच्छा है। पिछली बार भी पाकिस्तानी पहलवानों को मंजूरी नहीं दी गयी थी और इससे हमारे लिये परेशानी खड़ी हो गयी थी। उन्होंने यूनाईटेड वर्ल्ड रेसलिंग में शिकायत दर्ज करायी थी। इस बार उन्होंने पहले ही यूडब्ल्यूडब्ल्यू से बात कर ली थी।
 
18 देशों के 300 पहलवान भाग लेंगे
उन्होंने कहा, हम खेल और अपने खिलाड़ियों के विकास के लिए इन चैंपियनशिप का आयोजन करते हैं। हमें खुशी है कि अब हम बिना किसी परेशानी के इसका आयोजन कर सकते हैं। इस फ्रीस्टाइल और ग्रीको रोमन स्टाइल की चैम्पियनशिप में 100 महिलाओं सहित 18 देशों के 300 पहलवान भाग लेंगे जिसमें 10 स्वर्ण, 10 रजत और 20 कांस्य पदक दांव पर लगे होंगे। हाल में पाकिस्तान के स्क्वाश खिलाड़ियों को भी 17 जुलाई से चेन्नई में होने वाली जूनियर विश्व चैंपियनशिप के लिये वीजा हासिल करने में जूझना पड़ा था। भारत और पाकिस्तान ने 2007 के बाद से पूर्ण द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज नहीं खेली है क्योंकि भारत सरकार दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंधों के चलते बीसीसीआई को इसके लिए मंजूरी नहीं दे रही है।  
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »