14 Nov 2018, 10:17:42 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport » Football

रूसी कोच स्टेनिसलाव चेरचेसोव का बयान - सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन अभी बाकी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 21 2018 5:53PM | Updated Date: Jun 21 2018 5:53PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

सेंट पीटर्सबर्ग। फुटबाल विश्व कप के नाकआउट चरण में लगभग जगह पक्की कर चुके रूस के कोच स्टेनिसलाव चेरचेसोव को उम्मीद है कि टीम का सर्वश्रेष्ट प्रदर्शन अभी आना बाकी है। रूस की टीम कल मिस्र को 3 -1 से हराकर विश्व कप के नाकआउट चरण में प्रवेश की दहलीज पर पहुंच गई है।           
 
मिस्र के स्टार स्ट्राइकर मोहम्मद सलाह ने चोट से ऊबरने के बाद इस मैच में मैदान पर वापसी की और पेनल्टी पर गोल भी दागा, लेकिन 28 साल बाद पहला विश्व कप खेल रहे मिस्र को लगातार दो हार के बाद अब वापसी का टिकट कटाना पड़ सकता है।         
      
अहमद फातही ने आत्मघाती गोल दागकर 47 वें मिनट में रूस को बढत दिला दी । यह इस टूर्नामेंट का पांचवां आत्मघाती गोल रहा। इसके बाद डेनिस चेरिशेव और आयतयोम ज्युबा ने लगातार गोल दागकर रूस को 3-0 की बढ़त दिला दी । इससे पहले रूस ने शुरूआती मैच में सउदी अरब को 5-0 से हराया था।       
 
उरूग्वे की टीम अगर कल सऊदी अरब को हराती है या ड्रॉ खेलती है तो रूस अंतिम 16 में पहुंच जायेगा। ऐसे में मिस्र बाहर हो जायेगा जिसे पहले मैच में उरूग्वे ने 1-0 से हराया था। रूस के 1986 के बाद पहली बार विश्व कप के नाकआउट दौर में पहुंचने पर चेरचेसोव, मुझे उम्मीद है कि अभी और अच्छा प्रदर्शन होगा। हम सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।  
 
विश्व कप से पहले रूस रूस की टीम लगातार सात मैचों में जीत नहीं दर्ज कर सकी थी लेकिन इस टूर्नामेंट में उसने अब तब शानदार प्रदर्शन किया है जिस पर कोच ने कहा कि मैत्री मैचों के नतीजे को लोग बेवजह ही तव्वजों दे रहे थे।  
 
उन्होंने कहा, हर किसी को हमारा पहले का प्रदर्शन याद है। हमने अपनी तैयारी ठीक से की थी और सही खिलाड़ियों को चयन किया। हम अपने समर्थकों को जश्न मनाने को मौका देकर खुश हैं। मिस्र के लिए सालाह पूरी तरह रंग में नहीं दिखे, हालांकि उन्होंने 73 वें मिनट में पेनॉल्टी पर गोल किया। 
 
पिछले महीने चैंपियंस लीग फाइनल में कंधे की चोट से जूझने वाले सालाह का यह पहला मैच था और मिस्र का 28 साल में विश्व कप में पहला गोल भी था। मिस्र के कोच हेक्टर कूपर ने कहा, मुझे लगता है हमारी टीम में सालाह के महत्व पर कोई सवाल नहीं उठा सकता है। हमें पता है कि वह शानदार खिलाड़ी हैं।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »