17 Oct 2019, 13:20:43 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

कोरियाई कम्पनियों के सीईओ खेलेंगे केंद्र-हरियाणा के अधिकारियों के साथ गोल्फ

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 16 2019 9:40PM | Updated Date: Jul 16 2019 9:40PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

चंडीगढ़। गोल्फ खेल के माध्यम से कोरियाई निवेशकों के साथ बेहतर व्यापारिक सम्बंध कायम करने के लिये हरियाणा सरकार 19 जुलाई को ‘द इंडिया-कोरिया गोल्फ मीट’ का आयोजन करने जा रही है जिसमें कोरिया की  25 शीर्ष कम्पनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) और इसके भारत स्थित दूतावास के प्रतिनिधि भारत सरकार तथा हरियाणा सरकार के वरिष्ठ सचिवों के साथ टी-ऑफ करेंगे। आमतौर पर बेहतर व्यापारिक सम्बंधों के लिये बैठकें आयोजित की जाती हैं लेकिन गोल्फ के जरिए कोरियाई निवेशकों को लुभाने के लिये हरियाणा सरकार ने गोल्फ प्रतियोगिता का आयोजन कर एक अनूठी पहल की है। प्रतियोगिता का आयोजन केंद्र सरकार की राष्ट्रीय निवेश प्रोत्साहन एवं सुविधा एजेंसी ‘इन्वेस्ट इंडिया‘ समन्वय से हरियाणा सरकार ने किया है।

हालांकि प्रतियोगिता के आयोजन सम्बंधी सभी इंतजाम हरियाणा का उद्योग और वाणिज्य विभाग गुरुग्राम स्थित डीएलएफ गोल्फ एंड कंट्री क्लब में करेगा। उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह ने बताया कि ‘द इंडिया-कोरिया गोल्फ प्रतियोगिता‘ कोरियाई कम्पनियों के लिये खेल के माध्यम से हरियाणा सरकार के साथ जुड़ने का एक अनूठा अवसर है जिसमें उनके हितों और पहलुओं को समझने का मौका मिलेगा। यह आयोजन 19 जुलाई को प्रात: छह बजे से दोपहर एक बजे तक होगा। उन्होंने कहा कि इन्वेस्ट इंडिया, कोरिया प्लस, कोरियाई अंतरराष्ट्रीय व्यापार संघ (किटा) और हरियाणा एंटरप्राइजेज प्रमोशन सेंटर (एचईपीसी) इस अनूठी गोल्फ प्रतियोगिता के आयोजन में हरियाणा सरकार का सहयोग कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता में केंद्र सरकार के जो अधिकारी भाग लेंगे उनमें नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के सचिव डॉ. आनंद कुमार, उद्योग तथा आंतरिक व्यापार प्रोत्साहन(डीपीआईआईटी) विभाग के सचिव रमेश अभिषेक, राष्ट्रीय कौशल विकास मिशन की प्रमुख कॉर्पोरेट प्रोप्राईटी डॉ. अर्चना सिंह शामिल हैं। उन्होंने कहा कि प्रतियोगिता के बाद हरियाणा में निवेश को लेकर कोरियाई कम्पनियों के साथ कुछ समझौतों पर भी हस्ताक्षर हो सकते हैं।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »