11 Dec 2019, 22:57:30 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

खिलाडियों के अंतर्मन को दर्शाती किताब है इंडियन स्पोर्ट्स

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 11 2019 7:30PM | Updated Date: Nov 11 2019 7:30PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। वरिष्ठ लेखक एवं शिक्षकविद् विजयन बाला ने देशभर के विभिन्न खिलाड़यिों के साक्षात्कारों पर आधारित किताब ‘इंडियन स्पोर्ट्स’ के जरिये खेल और खिलाड़यिों के अंतर्मन को समझाने का अनूठा प्रयास किया है। भारतीय खेलों और खिलाडियों  पर वर्ष 1974 से ही शोध और किताबें लिख रहे विजयन की पुस्तक इंडियन स्पोर्ट्स अंग्रेजी में लिखी हुई किताब है। इस किताब में पैरा एथलेटिक्स, मुक्केबाजी, स्रूकर, कुश्ती, बैडमिंटन, टेनिस, तैराकी, क्रिकेट, टेबल टेनिस जैसे लगभग सभी महत्वपूर्ण खेलों से जुड़े पूर्व और वर्तमान खिलाडियों के साक्षात्कार शामिल हैं। पैरा एथलीट देवेंद्र झांझरिया, तीरंदाज लिम्बा राम, एथलीट मिल्खा सिंह, पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर, राहुल द्रविड़, चेतन चौहान, महिला क्रिकेटर स्मृति मंधाना, फुटबालर बाइचुंग भूटिया, भारत की ओलंपिक पदक विजेता बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल, पीवी सिंधू के अलावा पहलवान योगेश्वर दत्त, टेनिस स्टार सानिया मिर्जा, लिएंडर पेस, रमेश कृष्णन सहित कई खिलाड़यिों के साक्षात्कार इस किताब में शामिल किये गये हैं।

 

पूर्व ओलंपिक पदक निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने पुस्तक की भूमिका लिखते हुये कहा,‘‘ मानव जीवन में खेल उसके अस्तित्व के लिये बहुत अहम है और कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के पदक जीतने से लेकर अब तक हम देश के लिये कई उपलब्धियां हासिल कर रहे हैं। विजयन की यह किताब खिलाड़यिों की भावी योजनाओं के साथ साथ उनके सफर की जानकारियां भी उपलब्ध कराती है जो बेहद खास है।’’मुख्य रूप से शिक्षकविद् रहे और डॉन बॉस्को, मार्डन स्कूल, आर्मी पब्लिक स्कूल में पढ़ा चुके विजयन ने बताया कि इस किताब में उन्होंने खिलाड़यिों के संघर्ष से लेकर उनके लक्ष्य तक पहुंचने और देश की ओलंपिक तैयारियों और खेलों के आधारभूत ढांचे से संबंधित अहम पहलुओं पर रौशनी डालने का प्रयास किया है। विजयन इससे पहले वर्ष 1974 में इंडियन टेस्ट क्रिकेट स्टेटिस्टिकल डाइजेस्ट, स्पोर्ट्स क्विज(2016) और इंडियन स्पोर्ट्स कन्वर्सेशन एंड रिफ्लेक्शन(2018) में लिख चुके हैं।

 

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »