16 Dec 2019, 07:59:29 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

FD को छोड़ अब लोग यहां लगा रहे हैं पैसा, आप भी उठाए ये फायदा

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 16 2019 3:22PM | Updated Date: Nov 16 2019 3:23PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। म्यूचुअल फंड उद्योग ने अक्टूबर में सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) के जरिये 8,246 करोड़ रुपये जुटाए हैं। यह एक साल पहले की इसी अवधि की तुलना में 3.2 फीसदी अधिक है। शेयर बाजारों (Stock Market) में तेजी के बीच सरकार द्वारा कई सुधारों की वजह से म्यूचुअल फंड उद्योग में एसआईपी (SIP) निवेश बढ़ा है। एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (Amfi) के आंकड़ों के अनुसार इस तरह चालू वित्त वर्ष में अप्रैल से अक्टूबर की अवधि के दौरान SIP के जरिये निवेश बढ़कर 57,607 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो एक साल पहले इसी अवधि में 52,472 करोड़ रुपये रहा था।
 
एम्फी ने कहा कि खुदरा निवेशकों के लिए म्यूचुअल फंड में निवेश को SIP सबसे प्रमुख मार्ग बना हुआ है।  इससे बाजार जोखिमों को कम करने में मदद मिलती है. आंकड़ों के अनुसार, अक्टूबर में SIP के जरिये योगदान 8,246 करोड़ रुपये रहा, जो इससे पिछले साल के इसी महीने के 7,985 करोड़ रुपये की तुलना में 3.2 प्रतिशत अधिक है। म्यूचुअल फंड उद्योग में कुल 44 कंपनियां काम कर रही हैं इक्विटी फंड्स (Equity Funds) में निवेश के लिए ये कंपनियां मुख्य रूप से SIP पर निर्भर करती हैं। हालांकि, इससे पिछले महीने यानी सितंबर की तुलना में एसआईपी के जरिये निवेश घटा है।
 
सितंबर में उद्योग ने एसआईपी से 8,263 करोड़ रुपये जुटाए थे। अगस्त में एसआईपी के जरिये निवेश 8,231 करोड़ रुपये, जुलाई में 8,324 करोड़ रुपये, जून में 8,122 करोड़ रुपये, मई में 8,183 करोड़ रुपये और अप्रैल में 8,238 करोड़ रुपये रहा था। SIP, म्‍युचुअल फंड में निवेश का सबसे अच्‍छा तरीका है इस माध्‍यम से निवेश की अच्‍छी एवरेजिंग हो जाती है, जिससे निवेश में खतरा घट जाता है और अच्‍छे रिटर्न की संभावना बढ़ जाती है म्‍यूचुअल फंड में SIP शुरू करने के बाद जरूरी नहीं है कि आप तय समय तक ही निवेश करें इस निवेश को आप जब भी चाहें रोक सकते हैं ऐसा करने पर कोई पेनाल्‍टी नहीं लगती है।
 
SIP के जरिए इक्विटी म्यूचुअल फंड में निवेश लॉन्ग टर्म टारगेट को हासिल करने का सबसे अच्छा तरीका है इक्विटी में दूसरी योजनाओं की अपेक्षा अधिक रिटर्न देने की क्षमता है यह महंगाई को मात देने में भी मदद करता है, जोकि दूर के लक्ष्यों को पाने के लिए जरूरी भी है इसके अलावा टैक्सेशन में भी सहायक है। 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »