17 Oct 2019, 03:38:57 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news

सभी वर्गों को भरोसे में लेकर करेंगे सबका विकास : मोदी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jun 17 2019 12:31AM | Updated Date: Jun 17 2019 12:31AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। आम चुनावों के बाद संसद का सत्र आरंभ होने से एक दिन पहले रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) संसदीय दल की हुई बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को आश्वासन दिया कि उनकी सरकार सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास की भावना से अथक परिश्रम करेगी और समाज के सभी वर्गों को भरोसे में लेकर समावेशी विकास करेगी। संसद भवन के पुस्तकालय भवन में हुई इस बैठक में भाग लेने के बाद प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘भाजपा लोगों के आशीर्वाद के लिए आभारी है। हम हमारे देशवासियों को आश्वस्त करते हैं कि हम जनोन्मुखी शासन के अगुवा बनेंगे और सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास की भावना को परिलक्षित करने वाले कानून बनायेंगे।’’ मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘हमारा राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का परिवार 130 करोड़ भारतीयों के सपनों को पूरा करने के लिए कृतसंकल्प है।

हम क्षेत्रीय आकांक्षाओं को पूरा करेंगे और राष्ट्र की प्रगति के लिए अथक परिश्रम करेंगे।’’  बैठक में मोदी का अभिनंदन किया गया। बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिह, गृह मंत्री एवं भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी आदि मौजूद थे। इससे पहले दिन में संसद भवन परिसर में सर्वदलीय बैठक का भी आयोजन किया गया था। इस बैठक में मोदी ने कहा,‘‘ चुनाव में सब लोग बहुत से मुद्दे लेकर गये थे। लोगों ने जनादेश दे दिया है और जनादेश मिलने के बाद हम सारे प्रतिनिधि पूरे देश के प्रतिनिधि हो जाते हैं। हम चाहते हैं कि नया भारत नयी सोच के साथ बने। सदन की शुरुआत अच्छे माहौल में होनी चाहिए।’’ संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी के अनुसार प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार लोकसभा में नये चेहरे बहुत आये हैं। नये चेहरों के साथ नयी सोच भी आनी चाहिए।

जोशी ने कहा,‘‘ हम सब लोगों को पिछली लोकसभा के कार्यकाल में आखिरी दो साल में जो हुआ, उस पर आत्मनिरीक्षण करना चाहिए। वे बीते हुए दो साल लौट कर नहीं आ सकते हैं। हमें सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र पर आगे बढ़ना है।’’ प्रधानमंत्री ने बाद में ट्वीट करके विभिन्न दलों के नेताओं को उनके सुझावों के लिए धन्यवाद दिया और कहा ,‘‘ हम सब संसद को सुचारू रूप से चलाने के लिए तैयार हैं जिससे लोगों की आकांक्षाओं को पूरा किया जा सके।’’ सत्रहवीं लोकसभा का पहला सत्र सोमवार से आरंभ हो रहा है जबकि राज्यसभा का सत्र 20 तारीख से शुरू होगा। भाजपा के वीरेंद्र कुमार को अस्थायी अध्यक्ष बनाया गया है और वह नव निर्वाचित सदस्यों को सदन की सदस्यता की शपथ दिलाएंगे। 19 जून को लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। बीस जून को राष्ट्रपति राम नाथ कोंविद संसद के दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे। जबकि पांच जुलाई को नयी सरकार का पहला बजट पेश किया जाएगा। संसद का यह सत्र 26 जुलाई तक चलेगा।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »