13 Dec 2018, 08:19:05 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » World

संयुक्त राष्ट्र में म्यांमार की सेना को राजनीति से बाहर करने का प्रस्ताव

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 19 2018 11:49AM | Updated Date: Sep 19 2018 11:50AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

यंगून। संयुक्त राष्ट्र की जांच एजेंसी ने रोहिंग्याओं के खिलाफ अपराध को लेकर कहा है कि म्यांमार की सेना को देश की राजनीति से बाहर कर देना चाहिए। अपनी अंतिम जांच रिपोर्ट जारी करते हुए एजेंसी ने रोहिंग्या मुसलमानों के नरसंहार मामले में सेना के शीर्ष जनरलों के खिलाफ मुकदमा चलाने की अपील दोहराई है।  
 
संयुक्त राष्ट्र की 444 पन्ने की जांच रिपोर्ट में म्यांमार की सेना के शीर्ष नेतृत्व को पद से हटाने और देश की राजनीति और शासन व्यवस्था पर सेना के प्रभाव को खत्म करने की मांग की गई है। यहां सेना को तातमादाव कहा जाता है। बौद्ध बहुसंख्यक इस देश में सेना का प्रभुत्व है और उसका संसद की एक चौथाई सीट पर कब्जा होने के साथ ही तीन मंत्रालय भी सेना के नियंत्रण में हैं। 
 
रिपोर्ट में कहा गया है कि देश की असैन्य सरकार को म्यामांर की राजनीति से तातमादाव को निकालने का प्रयास करना चाहिए। बता दें कि संयुक्त राष्ट्र का यह विस्तृत विश्लेषण 18 महीने के कार्य और 850 से ज्यादा साक्षात्कारों पर आधारित है। इसमें अंतरराष्ट्रीय समुदाय से मांग की गई है कि वह म्यांमार की सेना के कमांडर इन चीफ मिन आंग हालियांग सहित सेना के शीर्ष पदों के अधिकारियों के खिलाफ जांच शुरू करें। 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »