09 Dec 2019, 06:20:18 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

रायसेन। जन्म से अपने मां बाप का चेहरा न देख पाने वाली दाक्षी अब दुनिया देखेंगी। मध्यप्रदेश के रायसेन जिले की बरेली तहसील के ग्राम जनकपुर के एक गरीब चौकीदार राकेश मेहरा की 1 वर्षीय मासूम बेटी दाक्षी जिसने जन्म लेने के बाद अपने माँ बाप को नही देखा है। बच्ची की आंखों का रेटिना जन्म से फटा हुआ है। गरीब मां बाप उसका इलाज कराने में असमर्थ हैं। अब इस बच्ची को दुनिया दिखाने का संकल्प लिया है बरेली तहसीलदार निकिता तिवारी ने और सहयोग में आगे आये हैं क्षेत्रीय नागरिक।
 
तिवारी ने बताया कि इस बच्ची को आयुष्मान योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा क्योंकि अस्पताल  तेलंगाना राज्य में है और अस्पताल प्रबंधकों ने इस योजना का लाभ देने से  इनकार कर दिया है। ऐसे में इस बच्ची की आंखें ठीक करवाने उन्होंने जनसहयोग की एक मुहिम चलायी और कुछ ही दिनों में 2Þ 50 लाख रूपये इकट्ठे हो गए। हालांकि दाक्षी का इलाज सरल नहीं है, 15 से 20 लाख रुपये का खर्च उसके आपरेशन में आ रहा है लेकिन कहते हैं जहां चाह,वहां राह। दाक्षी के इलाज के लिए धन संग्रह की मुहिम जारी है। तिवारी ने बताया कि 26 नवंबर को हैदराबाद में एक निजी अस्पताल में दाक्षी की आंखों की जांच करवाई जायेगी और फिर आगे का आपरेशन एवं उपचार शुरू हो जायेगा।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »