20 Oct 2019, 01:25:05 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
news » National

कांग्रेस को अब गोवा से लगा झटका - 15 में से 10 विधायक BJP में शामिल

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Jul 11 2019 4:14PM | Updated Date: Jul 11 2019 4:15PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

पणजी। गोवा में कांग्रेस के 10 विधायकों ने सत्तारुढ़ भाजपा में विलय का फैसला किया है। सूबे में कांग्रेस के 15 विधायक हैं, जिसमें से 10 विधायकों ने बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष राजेश पाटनेकर से मुलाकात करके भाजपा में विलय की घोषणा की। बागी रुख अपनाने वाले विधायकों में विपक्ष के नेता चन्द्रकांत कावलेकर भी शामिल हैं। आज सभी बागी विधायक भाजपा अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे।
 
भाजपा में विलय को लेकर गोवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष चंद्रकात कावलेकर ने कहा, दो तिहाई बहुमत होने के बाद हम राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मिलने आए हैं। साल 2017 के चुनाव में दूसरी बड़ी पार्टी बनने के बाद भी कांग्रेस सरकार नहीं बना पाई। गोवा में कांग्रेस के पूर्व सीएम पार्टी के लोगों को जोड़कर नहीं रख पा रहे हैं, जिससे हमारे विधायक भी काफी नाराज़ हुए हैं। चंद्रकात कावलेकर ने आगे कहा, विपक्ष का नेता होने के नाते मुझे भी इस बात से काफी परेशानी थी। हम सभी अपनी मर्ज़ी से भाजपा में शामिल हुए हैं, क्योंकि हमें भी पता था कि विपक्ष में रहकर हम अपने क्षेत्र का विकास नहीं कर सकते।
 
वहीं इस पूरे मामले पर राज्य के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा, विपक्षी नेता के साथ 10 कांग्रेस विधायकों ने भाजपा में विलय किया है। भाजपा की ताकत अब बढ़कर 27 हो गई है। वे राज्य और अपने निर्वाचन क्षेत्र के विकास के लिए हमारे साथ आए हैं। उन्होंने कोई शर्त नहीं रखी है, वे बिना शर्त भाजपा में शामिल हुए हैं।
 
गोवा की 40 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 17, कांग्रेस के 15, जीपीएफ के 3, एमजीपी का एक, एनसीपी के दो और 2 निर्दलीय विधायक हैं। कांग्रेस के 10 विधायकों के भाजपा में विलय की घोषणा के बाद विधानसभा में भाजपा विधायकों की संख्या 27 हो गई है। कांग्रेस के विधायकों के विलय के बाद विधानसभा में पार्टी विधायकों की संख्या मात्र 5 रह गई है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »