21 Sep 2018, 11:31:18 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
State

कोलारस और मुंगावली में आज शाम थम जाएगा चुनावी शोरगुल

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Feb 22 2018 2:34PM | Updated Date: Feb 22 2018 2:34PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और वरिष्ठ कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न बने कोलारस और मुंगावली विधानसभा उपचुनाव के लिए प्रचार चरम पर पहुंचने के बाद शाम पांच बजे चुनाव प्रचार थम जाएगा। इस वर्ष के अंत में प्रस्तावित विधानसभा चुनाव के पहले इन दोनों उपचुनावों को महत्वपूर्ण माना जा रहा है। आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि इन दोनों ही स्थानों पर 24 फरवरी को मतदान होगा और 28 फरवरी को नतीजे आ जाएंगे।

शिवपुरी जिले के कोलारस और अशोकनगर जिले के मुंगावली विधानसभा उपचुनाव के लिए शाम पांच बजे चुनाव प्रचार की समयावधि समाप्त होने के बाद चुनावी शोरगुल थम जाएगा। इसके बाद प्रत्याशी मतदाताओं से घर घर जाकर संपर्क कर सकते हैं। वहीं बाहरी नेताओं और व्यक्तियों को दोनों क्षेत्रों की सीमा से बाहर जाना होगा।

पिछले एक पखवाड़े से अधिक समय से इन दोनों ही क्षेत्रों में चुनाव प्रचार तेजी से चल रहा था। कांग्रेस की ओर से वरिष्ठ नेता एवं गुना संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले सिंधिया दोनों ही क्षेत्रों में चुनाव प्रचार की कमान संभाले हुए हैं। भाजपा की ओर मुख्य कमान मुख्यमंत्री चौहान के हाथों में है। ये दोनों नेता अपनी टीम के साथ चुनाव प्रचार के अंतिम दिन गुरूवार को भी दो दर्जन से अधिक इलाकों में पहुंचेंगे।

चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा की ओर से केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, वरिष्ठ नेता प्रभात झा, प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान, अरंविद भदौरिया, जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा, गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह, सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग, राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, लोक निर्माण विभाग मंत्री रामपाल सिंह और अन्य मंत्री कई दिनों से दोनों क्षेत्रों में डटे रहे। खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधराराजे सिंधिया ने कोलारस में पहली बार जमकर भाजपा के पक्ष में चुनाव प्रचार किया।

अपने भतीजे ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ उन्होंने पहली बार खुलकर प्रचार किया। वहीं कांग्रेस की ओर से पार्टी महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया, प्रदेश अध्यक्ष अरूण यादव, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के अलावा वरिष्ठ नेता कमलनाथ, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया और अन्य नेताओं ने प्रचार किया। ये दोनों क्षेत्र तत्कालीन सिंधिया राजघराने के प्रभाव वाले माने जाते हैं और सिंधिया के संसदीय क्षेत्र गुना के अंतर्गत ही दोनों विधानसभा क्षेत्र हैं।

मुंगावली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता महेंद्र सिंह कालूखेड़ा के निधन के कारण उपचुनाव हो रहा है। यहां पर कांग्रेस ने बृजेंद्र सिंह यादव और भाजपा ने श्रीमती बाईसाहब यादव पर दाव खेला है। कोलारस में वरिष्ठ नेता राम सिंह यादव के निधन के कारण उपचुनाव हो रहे हैं। कांग्रेस ने महेंद्र सिंह यादव और भाजपा ने पूर्व विधायक देवेंद्र जैन को चुनाव मैदान में उतारा है। भाजपा ये दोनों सीट कांग्रेस से छीनने के लिए पूरा जोर लगा रही है।

 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »