16 Dec 2019, 11:36:12 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport » Football

चेन्नइयन को हराकर बेंगलुरू ने खोला जीत का खाता

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 11 2019 2:20AM | Updated Date: Nov 11 2019 2:20AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

बेंगलुरू। मौजूदा चैम्पियन बेंगलुरू एफसी को हीरो इंडियन सुपर लीग के छठे सीजन में तीन मैचों के बाद आखिरकार रविवार को जीत नसीब हो ही गई। बेंगलुरू ने अपने घर कांतिरवा स्टेडियम में खेले गए अपने चौथे लीग मैच में दो बार के चैम्पियन चेन्नइयन एफसी को 3-0 से हराया। दोनों टीमों का यह चौथा मैच था। बेंगलुरू को तीन ड्रॉ खेलने के बाद पहली जीत नसीब हुई है जबकि चेन्नइयन का खाता अब तक नहीं खुल सका है। उसकी यह चार मैचों में तीसरी हार है। वह एक अंक के साथ 10 टीमों की अंक तालिका में सबसे नीचे मौजूदा है जबकि इस जीत से हासिल तीन अंकों के साथ बेंगलुरू की टीम पांचवें स्थान पर पहुंच गई है।

बेंगलुरू ने इस मैच में दो गोल पहले हाफ में किए जबकि एक गोल दूसरे हाफ में हुआ। पहले हाफ में उसके लिए एरिक पार्टालू ने 14वें मिनट में गोल दागा और फिर कप्तान सुनील छेत्री ने 25वें मिनट में गोल करते हुए उसे 2-0 से आगे कर दिया। तीसरा गोल थांगोसेम हाओकिप ने 84वें मिनट में किया। बहरहाल, तीन मैचों के बाद जीत के लिए तरस रही मेजबान टीम के लिए पहला हाफ किसी वरदान से कम नहीं रहा। खेल की शुरुआत से ही दो बार की चैम्पियन पर दबाव बनाकर चलने वाली बेंगलुरू की टीम ने चौथे, पांचवें और 12वें मिनट में चेन्नइयन के डिफेंस और गोलकीपर विशाल कैथ को छकाया और फिर 14वें और 25वें मिनट में गोल करते हुए 2-0 की लीड ले ली।

मेजबान टीम के लिए मैच का पहला गोल पार्टालू ने डिमास डेल्गाडो की मदद से किया। डिमास ने एक परफेक्ट हेडर लिया और पार्टालू ने उसे हेडर से गोल में डालने में कोई गलती नहीं की। बेंगलुरू की टीम 20वें मिनट में भी गोल करने के करीब थी लेकिन रफाएल अगस्तो चेन्नइयन के गोलकीपर की गलती का फायदा नहीं उठा सके। कप्तान सुनील छेत्री ने हालांकि 25वें मिनट में अगस्तो की मदद से गोल करते हुए अपनी टीम की पिछली गलती की भरपाई की। छेत्री ने यह गोल काउंटर अटैक पर किया। अगस्तो ने एक बेहतरीन थ्रू बॉल छेत्री को दिया था, जिस पर कैथ को छकाते हुए कप्तान ने बेंगलुरू की बढ़त दोगुनी कर दी। 27वें मिनट में बेंगलुरू ने अपना तीसरा गोल कर ही दिया था लेकिन किस्मत ने उसका साथ नहीं दिया। पोस्ट के आगे हुई आपाधापी ने चेन्नइयन को 0-3 से पिछड़ने से बचा लिया।

चेन्नइयन ने इससे बल हासिल करते हुए 43वें मिनट में पहला बड़ा हमला किया। एडविन वेंसपॉल के हेडर पर आंद्रेई स्केम्बरी ने अच्छा हेडर लिया लेकिन वह गेंद को पोस्ट में नहीं डाल सके। दूसरे हाफ के शुरुआती पलों में दोनों टीमों ने कुछ अच्छे मौके बनाए। 53वें मिनट में चेन्नइयन ने रहीम अली को बाहर कर लालियाजुआला चांग्ते को अंदर लिया। चांग्ते ने आते ही एक अच्छा मूव बनाया लेकिन चेन्नई के बाकी खिलाड़ी उसका फायदा नहीं उठा सके। 72वें मिनट में चेन्नई ने एक अच्छा मूव बनाया। इसके केंद्र में कप्तान लूसियान गोइयान, चांग्ते और रफाएल क्रीवेलारो थे लेकिन अगस्त ने बॉक्स के किनारे क्रीवेलारो को गिरा दिया। चेन्नई के खिलाड़ियों ने पेनाल्टी मांगा लेकिन रेफरी ने उसे नजरअंदाज किया। 75वें मिनट में बेंगलुरू के कप्तान छेत्री को पीला कार्ड मिला लेकिन वह यहां नहीं रुके और 75वें तथा 77वें मिनट में दो अच्छे मूव बनाए पर किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया। हालांकि हाओकिप ने पार्टालू की मदद से गोल करते हुए मेजबान टीम को 3-0 से आगे कर दिया।

  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »