12 Nov 2019, 04:37:14 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Sport

फुटबॉल आईएसएल : केरला और ओडिशा ने खेला गोलरहित ड्रॉ

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 9 2019 4:17PM | Updated Date: Nov 9 2019 4:17PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

कोच्चि। मेजबान केरला ब्लास्टर्स और ओडिशा एफसी के बीच शुक्रवार रात यहां जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन का 18वां मैच गोलरहित ड्रॉ रहा। इस ड्रॉ से केरला और ओडिशा दोनों के खाते में एक-एक अंक आए और अब दोनों ही टीमों के चार-चार मैचों से चार-चार अंक हो गए है। दोनों ही टीमों का इस सीजन में यह पहला ड्रॉ है। दो बार फाइनल में जगह बनाने वाली केरला ब्लास्टर्स ने पहले हाफ में अच्छा खेल दिखाया।
 
हालांकि वह दुर्भाग्यशाली भी रही क्योंकि पहले हाफ में उसे पेनल्टी नहीं मिली। ओडिशा ने भी पहले हाफ में कुछ मौके बनाए, लेकिन वह भी बढ़त नहीं ले सकी। दोनों ही टीमों ने पहले हाफ में दो-दो बदलाव किए क्योंकि उसके अधिकतर खिलाड़ी इस हाफ में चोटिल होते दिखे। मेजबान केरला ब्लास्टर्स ने मैच शुरू होते ही बदलाव करने शुरू कर दिए। केरला के बाद ओडिशा ने भी 28वें मिनट में मैच का अपना पहला बदलाव किया। 35वें मिनट में केरला ब्लास्टर्स के सहल अब्दुल समद ओडिशा के तीन खिलाड़यिों को छकाते हुए गेंद को बॉक्स की ओर लेकर बढ़े। लेकिन नारायण दास ने उन्हें बॉक्स के अंदर गिरा दिया।
 
केरला ने इस पर पेनल्टी की मांग की और ऐसा लग रहा था कि यह पेनल्टी है लेकिन उसकी यह मांग खारिज कर दी गई। 42वें मिनट में ओडिशा के पास बढ़त लेने का मौका आया। जैरी ने नंदकुमार को बॉल थमाई, लेकिन उनका यह शॉट बाहर चला गया। पहले हाफ में पांच मिनट का अतिरिक्त समय जोड़ा गया और दोनों ही टीमों में से कोई भी बढ़त हासिल नहीं कर पाई। दूसरे हाफ के शुरू होते ही ओडिशा के कप्तान मार्कोस तेबर की जगह मार्टिन ग्यूडेज मैदान पर आए।
 
इसके 10 मिनट बाद तक भी दोनों में से कोई भी टीम गोल करने के मौके नहीं बना पाई। 58वें मिनट में ओडिशा के पास खाता खोलने का एक बेहतरीन मौका आया। जैरी को राइट फ्लैंक से एक अच्छा पास मिला और उन्होंने इसे नंदकुमार सीकर की तरफ बढ़ाया। लेकिन नंदकुमार का यह शॉट गोल पोस्ट के बिल्कुल साइड से निकल गया और ओडिशा इस सुनहरे मौके को गंवा बैठी। 67वें मिनट में एक बार फिर से केरला ब्लास्टर्स की पेनल्टी की मांग को रेफरी द्वारा खारिज कर दिया गया।
 
मेजबान टीम के प्रशांत के शॉट को ओडिशा के खिलाड़ी नारायण दास द्वारा ब्लॉक किए जाने के समय केरला को ऐसा लगा कि गेंद दास के कोहनी को छूकर निकली है और उसने पेनल्टी की मांग की। लेकिन रेफरी ने इस बार भी मेजबान टीम की मांग को ठुकरा दिया। मैच में 75 मिनट गुजर जाने के बाद बाकी समय केरला के लिए काफी महत्वपूर्ण हो गया क्योंकि टीम ने पिछले चार गोलों में से दो गोल मैच के 75 मिनट के बाद ही खाए है। 78वें मिनट में केरला ने मैच में अपना अंतिम बदलाव किया और उसने मोहम्मद रफी को बाहर भेजकर बार्थोमोलोव ओग्बेचे को मैदान पर बुलाया।
 
नाइजीरियाई फारवर्ड ओग्बेचे ने जैसे ही मैदान पर कदम रखा स्टेडियम में मौजूद करीब 20 हजार दर्शकों ने शानदार तरीके से उनका स्वागत किया। 86वें मिनट में केरला ने लगभग पहला गोल दाग ही दिया था, लेकिन ओडिशा के गोलकीपर फ्रांिसस्को डोरोंसो ने शानदार सेव करके केरला को अंक बांटने पर मजबूर कर दिया। मैच में निर्धारित समय तक भी दोनों ही टीमें गोल नहीं दाग पाई और मुकाबला गोलरहित ड्रॉ रहा।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »