25 Jul 2017, 00:02:04 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

सुधीर शिंदे/अनिल धारवा- 
इंदौर। इंदौर में हुए आईपीएल मैचों के दौरान मप्र क्रिकेट एसोसिएशन (एमपीसीए) के सचिव मिलिंद कनमड़ीकर ने पद का जमकर दुरुपयोग किया। उन्होंने बीसीसीआई की कॉनफ्लिक्ट आॅफ इंट्रेस्ट पॉलिसी की अवहेलना की और अपने बेटे प्रसून को किंग्स इलेवन पंजाब से आर्थिक फायदा पहुंचाया। 

BCCI प्रशासक को शिकायत, FIR की मांग
एमपीसीए के आजीवन सदस्य राकेश भार्गव ने ये आरोप लगाते हुए बीसीसीआई के प्रशासक विनोद राय को शिकायत की है। 26 अप्रैल को की गई शिकायत में आरोप लगाया है कि प्रसून ने मैचों के दौरान एमपीसीए सचिव के ईमेल का उपयोग करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब के अधिकारियों और बीसीसीआई द्वारा अधिकृत इवेंट मैनेजमेंट कंपनी आईएमजी को अपने नाम से मेल किए। भार्गव ने इस संबंध में कनमड़ीकर से तमाम जानकारी मांगी है।
 
नहीं है सदस्य
भार्गव ने आरोप लगाया कि प्रसून न तो एमपीसीए के सदस्य हैं, न कर्मचारी और पदाधिकारी। फिर भी छह सालों से पूरा दिन एमपीसीए के कार्यालय में बैठते हैं। वे एमपीएस के दस्तावेज भी अपने पास रखते हैं।
 
FIR दर्ज कराने की मांग
भार्गव ने अपनी शिकायत बीसीसीआई के प्रशासक के साथ ही बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी, किंग्स इलेवन पंजाब प्रबंधन, आईएमजी व एमपीसीए के सदस्यों की भी है। उन्होंने प्रसून कनमड़ीकर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की भी मांग की है। 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »