22 Apr 2019, 17:42:04 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

कोलकाता। कोलकाता के ईडन गार्डन मैदान पर जब कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए सब कुछ खत्म दिखाई दे रहा था कि तभी आंद्रे रसेल रूपी कैरेबियाई तूफान उठा, जिसमें सनराइजर्स हैदराबाद की उम्मीदें उड़ गई। रसेल ने मात्र 19 गेंदों पर नाबाद 49 रन की करिश्माई पारी खेलकर रविवार को कोलकाता को दो गेंद शेष रहते छह विकेट से हैरतअंगेज जीत दिला दी। हैदराबाद ने ऑस्ट्रेलिया के खतरनाक ओपनर डेविड वॉर्नर की 85 रन की जबरदस्त पारी तीन विकेट पर 181 रन का मजबूत स्कोर बनाया। कोलकाता ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 15.3 ओवर में अपने चार विकेट 118 रन पर गंवा दिए थे, लेकिन रसेल ने 19 गेंदों में चार चौके और चार छक्के उड़ाते हुए नाबाद 49 रन ठोके और कोलकाता को जीत दिला दी।  युवा बल्लेबाज शुभमन गिल ने मात्र 10 गेंदों पर दो छक्के उड़ाकर नाबाद 18 रन ठोके और कोलकाता के लिए विजयी छक्का मारा। कोलकाता ने 19.4 ओवर में चार विकेट पर 183 रन बनाकर जीत अपने नाम की।
 
कौल के ओवर में जड़े लगातार दो छक्के
आंद्रे रसेल ने 18वें ओवर में सिद्धार्थ की गेंदों पर लगातार दो छक्के उड़ाकर मैच में अचानक रोमांच पैदा कर दिया। रसेल ने पांचवीं गेंद पर चौका मारा। इस ओवर में 19 रन पड़े और अब कोलकाता को आखिरी दो ओवर में 34 रन चाहिए थे। रसेल का करिश्मा जारी था और उन्होंने 19वें ओवर में भुवनेश्वर कुमार की पहली तीन गेंदों पर 4,6,4 जड़ दिया। ईडन गार्डंस में दर्शकों का शोर अब आसमान को छू रहा था। रसेल ने पांचवीं गेंद पर छक्का उड़ा दिया और उनके तथा शुभमन गिल के बीच 50 रन की साझेदारी मात्र 20 गेंदों में पूरी हो गई, जिसमें गिल का योगदान मात्र छह रन का था। कोलकाता को आखिरी ओवर में 13 रन चाहिए थे और गेंद शाकिब के हाथों में थी। शाकिब की पहली गेंद वाइड थी और दूसरी गेंद पर एक रन बना। गिल ने तीसरी गेंद पर लॉन्ग ऑन के ऊपर से छक्का मार दिया और फिर चौथी गेंद पर छक्का मारकर मैच समाप्त कर दिया।
 
एक साल पहले 
जिस दिन वॉर्नर पर लगा था दाग, उसी दिन किया जोरदार धमाका हैदराबाद के ओपनर डेविड वॉर्नर ने बॉल टेंपरिंग मामले में एक साल का प्रतिबंध झेलने के बाद बड़े ही विस्फोटक अंदाज में वापसी की। वॉर्नर कोलकाता नाइट राइडर्स  के खिलाफ ईडन गार्डन्स में शतकीय धमाका करने से चूक गए। यह ऑस्ट्रेलियाई धुरंधर 53 गेंदों में 85 रनों की जोरदार पारी खेलकर आउट हुआ, जिसमें 9 चौके और 3 छक्के भी शामिल थे। इत्तेफाक की बात यह रही कि वॉर्नर ने यह पारी ठीक उसी तारीख को खेली है, जब पिछले साल खुद वह और उनके साथ खिलाड़ी स्टीव स्मिथ और कैमरन बेनक्रॉफ्ट ने बॉल टेंपरिंग को अंजाम दिया था। ठीक एक साल पहले इसी दिन यानी 24 मार्च 2018 को साउथ अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट के तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई ओपनर कैमरुन बेनक्रॉफ्ट बॉल टेंपरिंग करते हुए पकड़े गए थे। रसेल के तूफान से वार्नर की शानदार पारी पर पानी फिर गया। ऑस्ट्रेलिया  के वार्नर को पिछले साल बॉल टेपरिंग  के कारण 12 महीने का प्रतिबन्ध झेलना पड़ा था और वह आईपीएल 2018 से भी बाहर हो गए थे।
 
अब से ठीक एक साल पहले 24 मार्च 2018 को वार्नर ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट में अपनी साथी खिलाड़ी कैमरून बेनक्राफ्ट को बॉल टेपरिंग  के लिए कहा था जिसके लिए दोषी पाए जाने के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उनपर और कप्तान स्टीवन स्मिथ पर 12 महीने का प्रतिबंध लगा दिया था। वार्नर को हैदराबाद टीम ने इस सत्र के लिए रिटेन किया था और उन्होंने  53 गेंदों में नौ चौकों और तीन छक्कों की मदद से 85 रन की शानदार पारी खेली। वार्नर अपना सातवां ट्वंटी-20 शतक लगाने से चूक गए लेकिन पवेलियन लौटते समय उनके चेहरे पर शानदार वापसी करने की मुस्कराहट थी और उन्होंने बल्ला उठाकर दर्शकों का अभिवादन किया। कोलकाता ने ईडन गार्डन पर इस मुकाबले में टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया।
 
वार्नर ने इंग्लैंड के जानी बेयरस्टो के साथ पहले विकेट के लिए 12।5 ओवर में 118 रन की जबरदस्त साझेदारी की। बेयरस्टो ने 35 गेंदों पर 39 रन में तीन चौके और एक छक्का लगाया। बेयरस्टो को लेग स्पिनर पीयूष चावला ने बोल्ड किया। वार्नर अपने शतक की तरफ बढ़ रहे थे कि आंद्रे रसेल ने उन्हें रोबिन उथप्पा के हाथों कैच करा दिया। वार्नर ने आईपीएल में अपना 37 वां अर्धशतक बनाया। हैदराबाद का दूसरा विकेट 144 के स्कोर पर गिरा।यूसुफ पठान एक रन बनाकर 152 के स्कोर पर आउट हुए। भारतीय टीम के बल्लेबाज विजय शंकर ने 24 गेंदों पर दो चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 40 रन की पारी खेली और हैदराबाद को 181 तक पहुंचाया। पठान एक रन बनाकर रसेल की गेंद पर बोल्ड हुए जबकि मनीष पांडेय आठ रन बनाकर नाबाद रहे। रसेल ने 32 रन पर दो विकेट और चावला ने 23 रन पर एक विकेट लिया। कोलकाता के कप्तान दिनेश कार्तिक ने 20 ओवर में सात गेंदबाजों का इस्तेमाल किया लेकिन सफलता दो गेंदबाजों को ही मिली। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को दो ओवर ही मिले जिसमें उन्होंने 18 रन दिए। केवल प्रसिद्ध कृष्णा और लोकी फर्ग्युसन ने 4-4 ओवर का कोटा पूरा किया।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »