16 Dec 2019, 07:53:49 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

आठ वर्ष में स्टील खपत में 100 प्रतिशत की बढोतरी

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Nov 19 2019 1:46AM | Updated Date: Nov 19 2019 1:46AM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। देश में स्टेनलेस स्टील के प्रति व्यक्ति खपत आठ साल में शत प्रतिशत से अधिक बढ़कर 2019 में 2.5 किलो प्रति व्यक्ति पर पहुंच गयी जो वर्ष 2010 में 1.2 किलोग्राम प्रति व्यक्ति थी। इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने इंडियन स्टेनलेस स्टील डेवलपमेंट एसोसिएशन (आईएसएसडीए) की स्थापना की 30वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित समारोह के उद्घाटन के दौरान यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस तरह अब भारत प्रति व्यक्ति स्टेनलेस स्टील खपत के लिहाज़ से विश्व के शीर्ष 15 देशों में शामिल हो गया है। आईएसएसडीए के नेतृत्व में घरेलू स्टेनलेस स्टील उद्योग के सहयोगात्मक प्रयास और इस्पात मंत्रालय की उद्योग समर्थक नीतियों की मदद से यह मील का पत्थर हासिल करना संभव हुआ।
 
वास्तुशिल्प, भवन एवं निर्माण (एबीसी), वाहन, रेलवे एवं परिवहन (एआरटी), प्रसंकरण उद्योग एवं घरेलू उपयोग के उपकरण और रसोई के बर्तन आदि जैसे विभिन्न खंडों में स्टेनलेस स्टील की मांग बढ़ने के कारण प्रति व्यक्ति खपत में बढ़ोतरी संभव हुई। कुलस्ते ने कहा कि भारत के लिए 2.5किलो प्रति व्यक्ति खपत के उपभोग स्तर तक पहुंचना गर्व की बात है। भारत में स्टेनलेस स्टील की मांग की वृद्धि दर 6 से7 प्रतिशत वार्षिक है, जो दुनिया में सबसे अधिक भी है क्योंकि स्टेनलेस स्टील की मांग सीधे आर्थिक विकास से जुड़ी है। स्टेनलेस स्टील से न केवल जीवन चक्र लागत कम होती है, बल्कि जीवन की समग्र गुणवत्ता में सुधार होता है।
 
आईएसएसडीए के अध्यक्ष के के पाहुजा ने कहा कि भारतीय स्टेनलेस स्टील उद्योग के लिए दिशा निर्देशक के तौर पर आईएसएसडीए अपनी स्थापना के समय से ही विभिन्न उद्योगों में स्टेनलेस स्टील के नए उपयोग किस्म के उपयोग को प्रोत्साहन दे रहा है। बहुत कम समय में ही 2.5 किलो प्रति व्यक्ति खपत का स्तर प्राप्त करने के साथ भारत एक ऐतहासिक मोड़ पर पहुँच गया है और उन देशों की कतार में शामिल हो गया है जहाँ स्टेनलेस स्टील की खपत अधिक है। भारत स्टेनलेस स्टील के लिए सबसे अधिक तेज़ी से वृद्धि दर्ज़ करता बाज़ार है। आईएसएसडीए घरेलू उद्योग और सरकार को अपने निरंतर सहयोग के प्रति आभार जताता है ।
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »