18 Nov 2019, 12:31:42 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business » Other Business

आम जनता को मिली राहत - सितंबर में कम हुई थोक महंगाई दर

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Oct 14 2019 2:25PM | Updated Date: Oct 14 2019 2:26PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

नई दिल्ली। प्याज के मूल्यों में बढ़ोतरी के बावजूद सितंबर में थोक मूल्यों पर आधारित मुद्रास्फीति की दर घटकर 0.33 प्रतिशत दर्ज की गयी है। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के सोमवार को यहां जारी आंकड़ों के अनुसार सितंबर 2018 की तुलना में सितंबर 2019 में थोक मुद्रास्फीति की दर 0.33 प्रतिशत रही है। सितंबर 2018 में यह आंकडा 5.22 प्रतिशत था।
 
जुलाई 2019 में थोक मुद्रास्फीति की दर 1.08 प्रतिशत दर्ज की गयी थी। चालू वित्त वर्ष में अभी तक बिल्ड अप मुद्रास्फीति की दर 1.17 प्रतिशत रही है जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह आंकडा 3.96 प्रतिशत था। आंकड़ों  में कहा गया है कि पिछले छह महीनों के दौरान प्याज के दामों में असाधारण  122. 40 प्रतिशत की तेजी आयी है। इसके उलट कच्चे तेल 21.41 प्रतिशत, रसोई  गैस 27.51 प्रतिशत और आलू में 22.50 प्रतिशत की गिरावट हुई है।  सितंबर 2019 के दौरान  खाद्य वस्तु समूह के फल एवं सब्जियां और सूअर के  मांस के दाम तीन तीन प्रतिशत घटे हैं।
 
ज्वार,बाजरा और अरहर दो प्रतिशत,  समुद्री मछली, चाय और बकरे का मांस एक प्रतिशत नीचे आये हैं। इसी समूह में  मसाले चार प्रतिशत, पान पत्ता एवं मटर तीन प्रतिशत, अंडा एवं रागी दो  प्रतिशत तथा राजमा, गेंहू, जौ, उडद, मछली, गाय एवं भैंस का मांस, मूंग,  मुर्गें का मांस, धान और मक्का के दाम एक प्रतिशत चढे हैं। 
 
गैर खाद्य वस्तु समूह में फूल 25 प्रतिशत, कच्ची रबड़ आठ प्रतिशत, कच्ची खाल  चार प्रतिशत, कच्ची कपास तीन प्रतिशत, चारा दो प्रतिशत तथा नारियल रेशा और  सूरजमुखी के दाम एक प्रतिशत गिरावट में रहे हैं। इसी समूह में कच्ची सिल्क  आठ प्रतिशत, सोयाबीन पांच प्रतिशत, तिल तीन प्रतिशत, कच्चा जूट दो प्रतिशत  और सरसों एक प्रतिशत महंगे हुए हैं।  
 
सितंबर 2019 में कच्चे तेल तीन प्रतिशत घटा है जबकि रसोई गैस तीन प्रतिशत और केरोसीन एक प्रतिशत चढ़े हैं। विनिर्मित  खाद्य समूह में मैकरोनी और नूडल प्पांच प्रतिशत महंगे हुए हैं। सूखी मछली  और नारियल तेल तीन प्रतिशत और काफी, वनस्पति, चावल  छिलका तेल, मक्खन और  घी दो प्रतिशत की तेजी में रहे हैं। पशु आहार, मसाले, पाम ऑयल, गुड, चावल, चीनी, सूजी, गेंहू  छिलका, सरसों तेल और मैदा के दाम एक प्रतिशत चढ़े हैं।  हालांकि अरंडी तेल तीन प्रतिशत,  कोकोआ दो प्रतिशत, तैयार खाद्य उत्पाद,  बिनौला तेल, मूंगफली तेल, आइसक्रीम और बेसन के दाम एक प्रतिशत गिरे हैं।  
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »