19 Oct 2019, 05:06:53 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android
Business

अन्न भंडारण क्षमता बढ़ाने के लिए 1000 करोड़ का निवेश करेगी केन्द्र सरकार

By Dabangdunia News Service | Publish Date: Sep 21 2019 4:03PM | Updated Date: Sep 21 2019 4:03PM
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

पटना। केन्द्र  सरकार निजी उद्यमियों के माध्यम से बिहार में अन्न भंडारण की मौजूदा  क्षमता को दोगुना करने के उद्देश्य से लगभग 1000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के महाप्रबंधक संदीप कुमार पांडेय ने आज बताया कि बिहार  में सात लाख मीट्रिक टन अन्न भंडारण क्षमता की वृद्वि के लिए अत्याधुनिक  भंडार गृहों (साइलो) का निर्माण कराया जायेगा। उन्होंने बताया कि कटिहार में करीब 50 करोड़ रुपये की  लागत से 50 हजार मीट्रिक टन क्षमता का अत्याधुनिक भंडारण गृह का निर्माण कार्य प्रगति पर है जबकि बक्सर और कैमूर जिले में अत्याधुनिक साइलो का निर्माण कार्य शीघ्र शुरू होने वाला है।
 
पांडेय ने बताया कि आर्थिक मामले विभाग के सहयोग से संचालित हो रही इस परियोजना में बिहार के कई  अन्य जिले भी लाभान्वित होंगे। बक्सर और कैमूर जिले में 50-50  करोड़ रुपये की लागत से साढ़े बारह हजार मीट्रिक टन चावल भंडारण क्षमता वाले बेहद  अत्याधुनिक वातानुकूलित भंडारण गृह तथा अन्य अनाजों के लिये भंडारण  गृह का निर्माण कराया जाएगा। यह संभवत: चावल के लिए देश के पहले  अत्याधुनिक भंडारण गृह होंगे।
 
एफसीआई के महाप्रबंधक ने बताया कि केन्द्र सरकार के खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता  मामलों के मंत्री रामविलास पासवान की विशेष पहल पर यह योजना इन तीन जिलों  के अतिरिक्त सारण, पश्चिम चंपारण, भागलपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, वैशाली और खगड़िया  जिलों में भी ली जा चुकी है और यहां भी निर्माण कार्य जल्द प्रारंभ होगा। इन सभी जिलों में प्रारंभिक दस्तावेजी तथा निविदा प्रक्रिया पूरी कर ली गई  है। बक्सर और कैमूर में जमीन हस्तांतरण की प्रक्रिया भी पूरी हो गयी है।
 
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »