19 Apr 2019, 21:59:46 के समाचार About us Android App Advertisement Contact us app facebook twitter android

मुम्बई। वैश्विक आर्थिक मंदी की आशंका से सोमवार को दुनिया भर के शेयर बाजारों में हड़कंप मच गया, जिसका असर घरेलू शेयर बाजारों पर भी है। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक कारोबार के शुरूआती पहर में 428.11 अंक यानी 1.12 प्रतिशत की भारी गिरावट के साथ 38,000 अंक से फिसलता हुआ 37,736.50 अंक पर आ गया। सेंसेक्स की शुरूआत भी कमजोर रही और यह 38,016.76 अंक पर खुला।
 
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी शुरूआती कारोबार में ही 126.85 अंक यानी 1.11 प्रतिशत की गिरावट में 11,330.05 अंक पर आ गया। इसकी शुरूआत भी गिरावट के साथ 11,395.65 अंक से हुई। बीएसई में सबसे अधिक रिएल्टी और दूरसंचार क्षेत्र में बिकवाली का दबाव है। विश्लेषकों के मुताबिक अमेरिकी ट्रेजरी यील्ड पिछले साल के बाद के निचले स्तर पर आ गया।
 
यील्ड में आयी गिरावट से बाजार में वैश्विक आर्थिक मंदी की आशंका एक बार फिर सिर उठाने लगी है। आस्ट्रेलिया का 10 साल का बांड यील्ड भी रिकॉर्ड निचले स्तर पर आ गया है। गत शुक्रवार को भी इसी चिंता में यूरोपीय बाजार लुढ़के थे जिसका असर आज एशियाई बाजारों पर भी दिखने लगा। चीन का शंघाई कंपोजिट, जापान का निक्की, दक्षिण कोरिया का कोस्पी और हांगकांग का हैंगशैंग भी बिकवाली के दबाव में है।
 
  • facebook
  • twitter
  • googleplus
  • linkedin

More News »